देश

राष्ट्रपति कोविंद 1 साल तक 30 फीसदी वेतन दान करेंगे, नई कार भी नहीं खरीदेंगे

 
नई दिल्ली

कोरोना संकट को देखते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने बड़ा फैसला किया है। राष्ट्रपति भवन ने जानकारी दी कि राष्ट्रपति अपना एक माह का वेतन पीएम केयर्स फंड में दे रहे हैं साथ ही एक साल तक अपने वेतन का 30 प्रतिशत हिस्सा वो दान करेंगे। इसके साथ ही अन्य कई प्रस्तावों पर भी रोक लगा दी गई है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद नहीं खरीदेंगे नई कार
राष्ट्रपति भवन से जारी एक बयान में बताया कि राष्ट्रपति कोविंद ने लिमोज़ीन कार खरीदने का प्रस्ताव भी स्थगित कर दिया है। दरअसल, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को इस साल एक ब्रांड-नई लिमोसिन खरीदने का निश्चय किया गया था। क्योंकि अभी तक वह मर्सिडीज-बेंज एस क्लास (एस 600) पुलमैन गार्ड के पुराने मॉडल का प्रयोग कर रहे हैं। इसीलिए 2021 गणतंत्र दिवस के मौके पर नई लिमोज़िन कार से ही उनको परेड पर आना था लेकिन कोरोना संकट को देखते हुए ये रद्द कर दिया गया है। इतना ही नहीं, राष्ट्रपति भवन के कर्मचारियों से खर्चें कम करने और बचे हुए पैसे कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में देने को कहा गया है।
 

राष्ट्रपति भवन में नहीं होगा ज्यादा खर्च
कोविड-19 संकट के मद्देनजर कई कदम उठाए गए हैं जिनमें समारोहों, भोज में कम मेहमान, फूलों का कम इस्तेमाल, व्यंजन सूची में कटौती आदि शामिल हैं। वहीं, सामाजिक दूरी बनाए रखने और खर्चों में कमी के लिए राष्ट्रपति घरेलू यात्राओं में कटौती करने और कम कार्यक्रमों में हिस्सा लेने की बात भी कही गई है। राष्ट्रपति भवन ने बताया कि हम लोग किसी मेहमान के स्वागत में कोई कमी नहीं छोड़ेगे लेकिन अब ज्यादा शो ऑफ नहीं किया जाएगा।

बढ़ता जा रहा कोरोना का संक्रमण
कोरोना वायरस (कोविड-19) का संक्रमण तेजी से फैल रहा है और पिछले 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 3722 नए मामले सामने आने से संक्रमितों की संख्या 78003 हो गई तथा इस दौरान 134 लोगों की मौत होने से मरने वालों का आंकड़ा 2549 पर पहुंच गया। संक्रमितों की संख्या 78 हजार के पार होने के बाद भारत 50 हजार से अधिक संक्रमण के आंकड़ों वाले देशों की सूची में 12वें स्थान पर पहुंच गया है।