देश

कहीं Covid-19 का कम्यूनिटी ट्रांसमिशन तो नहीं हुआ…, रिकॉर्ड मौतों के बाद उठे सवाल

 
नई दिल्ली

देश में कोरोना वायरस का खतरा अभी कम नहीं हुआ है। पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड मौतों ने एकबार फिर से लोगों को सोचने पर मजबूर कर दिया है। अब इससे सवाल से उठता है कि क्या कोरोना वायरस का कम्युनिटी ट्रांसमिशन हो चुका है? स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल से जब इस बाबत सवाल किया गया तो उन्होंने इस बात को माना और न ही इनकार किया। हालांकि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने भी कोरोना वायरस के कम्यूनिटी ट्रांसमिशन की बात को नकार दिया है।
लव अग्रवाल ने दिया जवाब
लव अग्रवाल से पूछा गया कि बीते 24 घंटे में इतनी मौतों से क्या समझा जाए कि क्या कोरोना वायरस का कम्यूनिटी ट्रांसमिशन हो चुका है। इस सवाल पर लव अग्रवाल ने जवाब किया कि कई राज्यों ने रिपोर्ट देने में देरी कर दी थी जिसकी वजह से बीते 24 घंटे में एकदम से मौत का आंकड़ा बढ़ गया है। हालांकि हम हर क्षेत्र को नजदीकी से देख रहे हैं। जहां भी एक मरीज होता है हम तुरंत उसको कंटेनमेंट कर देते हैं और स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर लोगों की जांच करती है। उन्होंने कहा कि ये लड़ाई अकेले नहीं जीत सकते। इसके लिए लोगों का साथ चाहिए। लोगों को खुद ही सावधानियां बरतनी होंगी ताकि इस वायरस को बढ़ने से रोका जाए।

हर्षवर्धन कहा हम सफल हुए हैं
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा, भारत कोविड-19 को सामुदायिक स्तर पर फैलने से रोकने में कामयाब रहा। साथ ही हर्षवर्धन ने उम्मीद जतायी कि कोरोनावायरस संकट के कारण लोगों की ‘आदत में जो बदलाव आया है’, वह इस महामारी की रोकथाम के बाद एक स्वस्थ समाज के लिए ‘नया सामान्य आचरण’ होगा।
 
अर्थव्यवस्था और लॉकडाउन के बारे में बोले स्वास्थ्य मंत्री
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि अगर भारतीय अपनी दिनचर्या में हाथ धोने, सांस संबंधी और पर्यावरण स्वच्छता की आदत को बरकरार रखते हैं, तो कोरोनावायरस संकट के समाप्त होने के बाद, भविष्य में जब देश महामारी के इस काल को देखेगा तो इन आदतों को वह ‘बुरे वक्त में मिला वरदान’ मान सकता है। अर्थव्यवस्था की तरह ही स्वास्थ्य पर भी पूरा ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने कहा, ‘सरकार को संतुलनकारी कार्य करना पड़ेगा।’

पिछले 24 घंटे मे रिकॉर्ड मौतें
लॉकडाउन 3.0 में मिली छूट के दूसरे ही दिन देश में मिले कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों की तादाद डराने वाली है। पिछले 24 घंटे में देश में कोरोना के मामलों और मौत के आंकड़ों में सबसे बड़ी उछाल देखी गई है। इस दौरान 3900 कंफर्म केस सामने आए और 195 लोगों ने दम तोड़ दिया। इसी के साथ देश में कोरोना का कंफर्म मामलों की संख्या बढ़कर 46 हजार को पार कर गई है। वहीं, अबतक 1568 लोगों की मौत हो चुकी है।
 

Tags

Related Articles

Close