छत्तीसगढ़ रायपुर

लॉकडाउन में रूके लोगों के लिए बुनयादी सुविधाओं के साथ मनोरंजन की व्यवस्था

रायपुर
कोरोना वायरस के संक्रमण और लॉकडाउन के कारण छत्तीसगढ़ और दूसरे प्रदेशों, विभिन्न जिलों के जांजगीर-चांपा जिले में रुके हुए लोगों के लिए बुनियादी सुविधाओं के साथ मनोरंजन की व्यवस्था की गई है। इस प्रकार जांजगीर-चांपा जिले में इन्हें घर से दूर लेकिन घर जैसी सुविधाएं जिला प्रशासन द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है। जिसमें स्वच्छ आवास, भोजन, मास्क, हेंडवास सेनेटाइजर, मनोरंजन के लिए टी वी, अन्य खेल सामग्री के साथ साथ अब उन्हें स्वस्थ रखने और रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने योग शिक्षक की व्यवस्था की गई है। बालक छात्रावास जांजगीर स्थित होम शेल्टर में हज्जाम की व्यवस्था की गई है।

कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक ने कोविड-19 लॉकडाउन से प्रभावित जिले के 10 शेल्टर होम्स रह रहे करीब 189 लोगों की सुविधाओं का समुचित ध्यान रखने के निर्देश दिए गए हैं।ताकि यहां आश्रय पाए लोगों को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो इसके लिए सभी विभागीय प्रशासनिक ,अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं। जांजगीर-चांपा जिले में राज्य शासन और कलेक्टर के निर्देश का सकारात्मक क्रियान्वयन किया जा रहा है। उन्हें यहां घर जैसी सुविधा मिल रही है। जांजगीर शेल्टर होम में आश्रय पाए सभी लोगों के लिए घर जैसी सुविधाएं-जांजगीर एसडीएम मेनका प्रधान द्वारा लॉकडाउन प्रभावितों के लिए समुचित व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। यहां रह रहे सभी 28 लोगों के लिए उन्हें गर्मी से राहत दिलाने चार कूलर की व्यवस्था की गई है। मनोरंजन के लिए दो टीवी लगाई गई है।10 लोगों  के लिए नए कपड़े, 4 जोड़ी चप्पल, साबुन तेल, मच्छर अगरबत्ती और शुद्ध पेयजल के लिए आर ओ की व्यवस्था की गई है। मनोरंजन के लिए टीवी के अलावा कैरम बोर्ड लूडो और और स्वस्थ शरीर के लिए योग शिक्षक की व्यवस्था की गई है। कलेक्टर जनक प्रसाद पाठक के निर्देश पर जांजगीर अनाज बैंक में पर्याप्त चांवल, दाल, राशन की व्यवस्था की गई है। सभी लोगों को दो समय का भोजन चाय नाश्ता नियमित रूप से समय पर उपलब्ध कराया जा रहा है। चांपा में उत्तर प्रदेश ,बिहार के 23 लोगों को राशन वितरित- एसडीएम बजरंग दुबे के मार्गदर्शन में 47 लोगों के लिए बाल्टी और बच्चों के लिए खिलौने महिलाओं के लिए नए कपड़े, राशन आदि का वितरण किया गया। मौके पर सुरक्षा कर्मियों की 24 घंटे की ड्यूटी लगाई गई है शनिवार को 21 मजदूरों के परिवारों के 74 सदस्यों के लिए सूखा राशन का वितरण किया गया। फतेहपुर उत्तर प्रदेश के और बिहार के 23 प्रवासियों को राशन सामग्री वितरित की गई उनके भोजन की व्यवस्था की गई। इसी प्रकार सक्ती तहसील में जरूरतमंद लोगों को राशन सामग्री का वितरण किया गया।