राजनीति

दिल्ली हिंसा पर अनुराग ठाकुर ने कहा- दोषियों के खिलाफ हो सख्त से सख्त कार्रवाई

चंडीगढ़
दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने एक विवादित बयान दिया था। दिल्ली में हिंसा भड़की तो उनपर भी आरोप लगा कि हिंसा भड़काने में उनके बयान का भी हाथ है। अब अनुराग ठाकुर ने कहा है कि दिल्ली में हिंसा फैलाने वालों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। हालांकि, अपने विवादित बयान पर पूछे गए सवाल को अनुराग ठाकुर ने यह कहकर टाल दिया कि यह मामला अब कोर्ट में है। उन्होंने सवाल पूछने वाले पत्रकार को जानकारी सुधारने की नसीहत भी दे डाली। बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली के इलाकों में भड़की हिंसा में अब तक 40 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।
एक पत्रकार ने अनुराग ठाकुर से पूछा कि क्या विवादित बयानों के चलते दिल्ली में जो चिनगारी भड़की उसमें सबसे पहले आपने बयान दिया था। इस सवाल के जवाब में अनुराग ठाकुर पत्रकार पर ही भड़क गए। उन्होंने उल्टे पत्रकार से ही सवाल पूछा, 'क्या कहा मैंने? यह आपलोग बिलकुल झूठ बोल रहे हैं। जितनी जानकारी है, उसमें पहले सुधार कीजिए। मामला कोर्ट में है, इसलिए मैं इसपर ज्यादा नहीं बोल रहा हूं। आपको पूरी जानकारी रहनी चाहिए। आधी जानकारी किसी के लिए भी घातक है।'

बयान पर बोले अनुराग ठाकुर- दंगे भड़काने वालों पर हो कार्रवाई
वित्त राज्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता अनुराग ठाकुर रविवार को चंडीगढ़ में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की एक बैठक में हिस्सा लेने पहुंचे थे। बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में अनुराग ठाकुर से दिल्ली की हिंसा पर भी सवाल पूछे गए। दिल्ली में हिंसा भड़काने के लिए उनके और अन्य बीजेपी नेताओं विवादित बयानों को लेकर जब सवाल पूछा गया तो अनुराग ठाकुर ने कहा, 'दंगे भड़काने वालों और उनमें शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। देश की मजबूती यह है कि हर विचारधारा के लोग यहां साथ रहते हैं और देश के निर्माण में योगदान देते हैं।'

दिल्ली हिंसा के बारे में अनुराग ठाकुर ने यह भी कहा कि पुलिस अपना काम बखूबी कर रही है। आगे पूछे गए सवालों के जवाब में उन्होंने कहा, 'आप इकॉनमी से जुड़े सवाल पूछिए। हमने इकॉनमी को आगे ले जाने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं और भविष्य में भी उठाएंगे। सोमवार से संसद का सत्र शुरू हो रहा है, वहां हर तरह के सवालों के जवाब दिए जाएंगे।'

चुनाव आयोग ने अनुराग ठाकुर के प्रचार करने पर लगाई थी रोक
आपको बता दें कि दिल्ली विधानसभा चुनाव के दौरान विवादित नारे लगवाने के आरोप में चुनाव आयोग ने अनुराग ठाकुर के प्रचार करने पर रोक लगा दी थी। हाल ही में हुई हिंसा के बाद दिल्ली हाई कोर्ट ने अनुराग ठाकुर समेत कई बीजेपी नेताओं के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया था। हालांकि, इस मामले में पुलिस की रिपोर्ट के बाद कोर्ट कुछ वक्त की मोहलत दे दी है।

दिल्ली हिंसा के बाद से ही कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी पार्टियां बीजेपी नेता कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर और कई अन्य नेताओं के विवादित बयानों को लेकर सवाल उठा रही हैं। दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी भी लगातार मांग कर रही है कि इन नेताओं के खिलाफ भी कार्रवाई की जानी चाहिए।

Related Articles

Close