जबलपुर

किसने खराब किया दिल्ली का माहौल,केंद्र व दिल्ली सरकार को नोटिस जारी

जबलपुर
दिल्ली का माहौल खराब होने तथा हिंसा मामले पर हाईकोर्ट दिल्ली ने ‘वकीलों की आवाज’ संस्था की याचिका पर यूनियन आॅफ इंडिया और दिल्ली सरकार को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है। चीफ जस्टिस व जस्टिस सी हरिशंकर की डिवीजन बेंच ने इस मामले को 13 अप्रेल को लिस्टेड करने भी निर्देश दिए हैं।

यह जानकारी मध्यप्रदेश के पूर्व महाधिवक्ता जबलपुर-गाडरवारा निवासी पुरुषेंद्र कौरव ने दी है।  कौरव के मुताबिक सीएए आने पर कांग्रेस की राष्टÑीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी,प्रियंका गांधी आदि ने भड़काऊ भाषण दिए हैं। इसलिए इन पर आपराधिक कार्रवाई किए जाने की जरुरत है जिसके लिए एसआईटी गठित होना चाहिए। साथ ही दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया, अमानतुल्ला खान, वारिस पठान, अकबरुद्दीन औवेसी व महमूद पारचा ने भावनाओं को भड़काने तथा उकसाने वाले बयान दिए हैं। शुक्रवार को खुली अदालत में हुई सुनवाई के दौरान इन नेताओं के बयानों तथा भाषणों को पढ़ कर सुनाया गया है। उल्लेखनीय है कि पिटीशन दाखिल करने वाली संस्था ‘वकीलों की आवाज’ में वरिष्ठ अधिवक्ता नीरज, सत्यरंजन हंस, सिद्धार्थ खटाना, शौमेन्दु मुखर्जी, अचर्ना शर्मा भी सदस्य हैं।