देश

पाक समर्थकों को गोली मारने का हो कानून: मंत्री

बेंगलुरु
19 वर्षीय कॉलेज स्टूडेंट अमूल्या लियोना के सीएए विरोधी रैली के दौरान 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारों ने नया विवाद खड़ा कर दिया है। कर्नाटक सरकार में मंत्री बीसी पाटिल ने ऐसे पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों को 'देखते ही गोली मारने' के कानून की वकालत की है। उन्होंने कहा कि ऐसा केंद्रीय कानून होना चाहिए, जिसके तहत पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने वालों को गोली मारी जा सके।

बता दें कि अमूल्या नाम की एक 19 वर्षीय लड़की ने पिछले हफ्ते सीएए-एनआरसी के विरोध में आयोजित रैली के दौरान 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाए थे। रैली में एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी भी मौजूद थे। ओवैसी ने अमूल्या की नारेबाजी का विरोध किया जिसके बाद पुलिस उसे मंच से नीचे उतार ले गई और राजद्रोह की धारा में उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

इसी मुद्दे पर पूछे गए सवाल के जवाब में मंत्री पाटिल ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करूंगा कि ऐसा कानून लाया जाए जिसमें देशद्रोहियों को 'देखते ही गोली मारने' की व्यवस्था हो। पाटिल ने कहा, 'केंद्र सरकार को ऐसा कानून लाना चाहिए जिसके तहत देशविरोधी नारे लगाने वालों को गोली मारी जा सके।'

'देशविरोधी नारे लगाने वालों पर नहीं दिखाई जाएगी दया'
उन्होंने आगे कहा, 'ऐसे लोगों को तुरंत गोली मार देनी चाहिए। मैं प्रधानमंत्री से मीडिया के जरिए अपील करता हूं कि इसको लेकर एक कानून लाएं। मैं उन्हें इस बारे में एक पत्र भी लिखूंगा।' उधर केंद्रीय मंत्री डीवी सदानंद गौड़ा ने कहा कि देशविरोधी नारे लगाने वालों को लेकर किसी भी तरह की दया नहीं दिखाई जाएगी और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Tags

Related Articles

Close