खेल

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग ने बताया, किस वजह से केपटाउन में हुई थी बॉल टैम्परिंग

नई दिल्ली
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग का मानना है कि स्टीव स्मिथ की कप्तानी वाली टीम में 'ना' कहने की हिम्मत नहीं थी और इसलिए वह 2018 में केपटाउन में गेंद से छेड़खानी वाले विवाद में फंस गए। पोंटिंग ने कहा कि न्यूलैंड्स में जो हुआ उसकी जमीन एक साल पहले से तैयार हो गई थी जब उन्हें राष्ट्रीय टीम में सीनियर खिलाड़ियों के अनुभव की कमी खली थी।

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने पोंटिंग के हवाले से लिखा है कि मैं इस बात से काफी चिंतित था कि हमारी टीम से अनुभव बाहर जा रहा था। उसी समय अनुभवी खिलाड़ियों के जाने से एक खालीपन भी आ रहा था जिसके कारण वो न नहीं कह पा रहे थे।

उन्होंने कहा कि अगर मैं केपटाउन के मसले को देखता हूं तो मैं नहीं समझता कि टीम में इस तरह के खिलाड़ियों न कहने वाले ज्यादा खिलाड़ी थे। चीजें पूरी तरह से नियंत्रण से बाहर चली गई थीं। दो बार के विश्व विजेता कप्तान ने कहा कि यह पूरी तरह बाहरी इंसान का नजरिया है। पिछले कुछ महीनों से पहले तक मेरा टीम से कोई लेना-देना नहीं था।

बता दें कि डेविड वॉर्नर के अलावा स्टीव स्मिथ और कैमरून बेनक्रॉफ्ट को मार्च 2018 में बॉल टैम्परिंग का दोषी पाया गया था। इसके बाद वॉर्नर और स्मिथ पर एक साल और बेनक्रॉफ्ट को 9 महीने के लिए बैन किया गया था। एक साल के प्रतिबंध के बाद वॉर्नर ने पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार वापसी की थी।

 

Related Articles

Close