खेल

ICC ने बांग्लादेशी खिलाड़ियों के आक्रामक सेलिब्रेशन को गंभीरता से लिया है: भारतीय टीम मैनेजर

पोचेस्ट्रूम (साउथ अफ्रीका) 
भारत की अंडर-19 क्रिकेट टीम के मैनेजर अनिल पटेल ने कहा है कि आईसीसी ने बांग्लादेशी क्रिकेटरों द्वारा वर्ल्ड कप जीत के बाद मनाए गए आक्रामक अंदाज में जश्न मनाने के मामले को गंभीरता से लिया है। उन्होंने कहा कि क्रिकेट की सर्वोच्च संस्था फाइनल मैच के 'आखिरी कुछ मिनटों' की फुटेज की समीक्षा कर रही है। कुछ बांग्लादेशी खिलाड़ी जश्न मनाने के दौरान आपा खो बैठे। रविवार को खेले गए फाइनल मुकाबले में बांग्लादेश ने भारतीय टीम को तीन विकेट से हराकर पहली बार आईसीसी अंडर-19 वर्ल्ड कप कब्जा किया। मैच के बाद बांग्लादेशी कप्तान अकबर अली ने 'दुर्भाग्यपूर्ण घटना' के लिए माफी मांगी वहीं भारतीय टीम के कप्तान प्रियम गर्ग ने बांग्लादेशी खिलाड़ियों के रवैये को 'डर्टी' बताया था। पटेल ने रविवार को क्रिकइंफो को बताया, 'हमें समझ नहीं आया कि असल में क्या हुआ।' 

पटेल ने कहा, 'हर कोई सदमे में था। बेशक हमें समझ ही नहीं आया कि क्या हो रहा है। आईसीसी के अधिकारी मैच के आखिरी कुछ मिनटों के विडियो फुटेज देख रहे हैं और वे हमें इसके बारे में जानकारी देंगे।' यहां तक कि जब मैच चल भी रहा था तब भी बांग्लादेश के खिलाड़ी जरूरत से ज्यादा आक्रामक हो रहे थे। और उनकी टीम के तेज गेंदबाज शोरिफुल इस्लाम हर गेंद के बाद भारतीय बल्लेबाजों को स्लेज कर रहे थे। जैसे ही मैच समाप्त हुआ, मामला और गंभीर हो गया जब बांग्लादेशी खिलाड़ी मैदान पर आ गए और आक्रामक शारीरिक भाषा का इस्तेमाल करने लगे। दोनों टीमों के खिलाड़ियों के बीच स्थिति बहुत तनावपूर्ण हो गई थी लेकिन कोचिंग स्टाफ ने मैदान पर आकर परिस्थिति को काबू किया। पटेल ने दावा किया कि मैच रेफरी ग्रीम लैबरुई ने उनसे मुलाकात कर मैदान पर हुई घटनाओं के लिए खेद जताया।
 

Related Articles

Close