इंदौर

.जब दूल्हे ने लगाई 11 किमी तक दौड़ और उसके पीछे-पीछे भागे 50 बाराती

इंदौर शहर ने कई तरह की शादियां और बारातें देखी होंगी, लेकिन सोमवार (20 जनवरी) को यहां ऐसी बारात निकली जिसकी हर तरफ चर्चा हो रही है. यहां शेरवानी पहने एक दूल्हा (Groom) सड़क पर बेतहाशा दौड़ता दिखाई दिया. उसके पीछे-पीछे करीब 50 बाराती भी इसी तरह भाग रहे थे. जिसने भी यह नज़ारा देखा वो हैरत में पड़ गया. दूल्हे को इस तरह भागता देख दुल्हन (Bride) भी हैरान रह गई.

 

दूल्हे से साथ 50 बाराती भी दौड़े

इंदौर के लोगों ने सोमवार को एक अद्गभुत बारात देखी. दूल्हे से लेकर बाराती तक सब भाग रहे थे, बल्कि यह कहना ज़्यादा ठीक होगा कि सब दौड़ रहे थे. देखकर अजीब ज़रूर लग रहा था, लेकिन ये कोई भागम-भाग या मारामारी नहीं थी. मुहूर्त निकलने की हड़बड़ी भी नहीं थी. दरअसल, ये एक फिटनेस ट्रेनर की बारात थी जो अपनी शादी के ज़रिए सबको फिटनेस का संदेश दे रहा था.

 

फिटनेस का संदेश

दूल्हा नीरज मालवीय पेशे से फिटनेस ट्रेनर है. फिटनेस को बढ़ावा देने के लिए ही वह 11 किमी तक दौड़कर फेरे लेने के लिए पहुंचा. यह बारात गणेश नगर में निकली. नीरज भी बाकी दूल्हों की तरह शेरवानी पहनकर तैयार हुआ था. सिर पर साफा और साफे में कलगी लगा रखी थी. गले में गुलाब की माला थी. लेकिन, फर्क़ इतना था कि वह घोड़ी, गाड़ी या बग्घी में सवार नहीं था.

 

बारातियों का ड्रेस कोड

मज़ेदार बात यह थी कि नीरज की बारात में शामिल 50 से ज्यादा बाराती भी उसके साथ-साथ करीब 11 किमी तक दौड़े. इनमें महिलाएं भी शामिल थीं. बारात का ड्रेसकोड रखा गया था पीले रंग की टीशर्ट. दूल्हा और बाराती इसी तरह संगम नगर तक पहुंचे. नीरज के मुताबिक, इसका सिर्फ एक और एक मकसद फिटनेस को बढ़ावा देना था.

 

परिवार को करना पड़ा राजी

नीरज ने बताया कि दौड़ लगाकर शादी स्थल तक जाने के लिए परिवार पहले राजी नहीं था. परिवार को किसी तरह इसके लिए मनाया गया. वहीं, घर में जो लोग दौड़ने में असमर्थ थे, उन्हें गाड़ियों से विवाह स्थल तक पहुंचाया गया. हालांकि, परिवार की ख्वाहिश को ध्यान में रखते हुए उन्होंने पारंपरिक तौर-तरीकों को भी अपनाया और विवाह स्थल से कुछ दूर पहले वो घोड़ी पर भी बैठे और सबका मन रख लिया.

Related Articles

Close