खेल

‘मैन ऑफ द मैच’ केएल राहुल बोले, अलग-अलग रोल निभाने में आता है मजा

नई दिल्ली
ओपनर शिखर धवन (96), कप्तान विराट कोहली (78), लोकेश राहुल (80) के शानदार अर्धशतकों के बाद मोहम्मद शमी के तीन विकेट और चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के एक ओवर में दो झटकों से भारत ने ऑस्ट्रेलिया को दूसरे वनडे में 36 रन से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है। इस मैच में 80 रन की शानदार पारी खेलने वाले केएल राहुल को 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया। मैच जीतने के बाद केएल राहुल ने कहा कि मैं इससे बेहतर शुरुआत की उम्मीद नहीं कर सकता। साथ ही उन्होंने कहा कि उन्हें अलग-अलग तरह की की जिम्मेदारी उठाना भी पसंद है।

केएल राहुल ने कहा कि उन्हें अलग-अलग तरह की भूमिकाएं निभाने में आनंद आता है।'' बल्लेबाजी क्रम में नीचे उतरने के अलावा राहुल ने इस मैच में विकेटकीपर की भूमिका भी निभाई। ऋषभ पंत की गैरमौजूदगी में भारतीय टीम में विकेटकीपर की भूमिका निभा रहे राहुल इस रोल से काफी खुश हैं।

उन्होंने कहा, ''मैं इससे बेहतर शुरुआत की उम्मीद नहीं कर सकता। प्रत्येक दिन मुझे अलग-अलग तरह की भूमिकाएं या जिम्मेदारियां सौंपी जाती है और अब मैं इसका आनंद उठा रहा हूं।''

नंबर 5 पर बल्लेबाजी करने को लेकर राहुल ने कहा, ''यह एक अलग पोजिशन है। इस पोजिशन के लिए मेरे पास सिर्फ इतना प्लान था कि मैं पहले कुछ गेंदें खेलूं। मैंने बल्लेबाजी से पहले विराट से बात की और उन्होंने मुझे कहा कि बॉल अच्छे से आ रही है। जब बैट के बीच में मैंने कुछ गेंदे खेल ली, उसके बाद सिर्फ बल्ला और  गेंद थी। बाकी सब चीजें आपके दिमाग से निकल चुकी थीं।''

उन्होंने कहा, ''मैं जिस तरह से कुछ साझेदारियां निभाई उससे बहुत खुश हूं। पिछले कुछ महीनों से मैं कर्नाटक के लिए भी अच्छी कीपिंग कर रहा था तो मुझे उम्मीद थी कि मैं गेंदबाजों को खुश रखूंगा।''

बता दें कि भारत ने 50 ओवर में छह विकेट पर 340 रन का विशाल स्कोर बनाया जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलियाई टीम स्टीव स्मिथ के 98 रन के बावजूद 49.1 ओवर में 304 रन बना सकी। मुंबई में पहला वनडे 10 विकेट से हारने वाली भारतीय टीम ने राजकोट में सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में शानदार वापसी कर सीरीज में बराबरी की। सीरीज का फैसला अब बेंगलुरु में रविवार (19 जनवरी) को होने वाले तीसरे और अंतिम मैच से होगा।

 

Related Articles

Close