खेल

खिलाड़ियों की एक-दूसरे से तुलना करने पर विश्वास नहीं करता: विराट कोहली

पुणे 
भारतीय कप्तान विराट कोहली लय में चल रहे दो खिलाड़ियों की तुलना करने के विचार से बचना चाहते हैं जैसा कि श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टी20 मैच में शिखर धवन की अर्धशतकीय पारी के बाद प्रशंसकों में टीम के सलामी बल्लेबाजों के संयोजन को लेकर चल रहा है। धवन इस मुकाबले से पहले काफी दबाव में थे। रोहित शर्मा को विश्राम दिए जाने के कारण टीम में उन्हें मौका मिला। शिखर ने 36 गेंद में 52 रन की पारी खेल फॉर्म में लौटने का संकेत दिया। इसके साथ ही उन्होंने टीम प्रबंधन की मुश्किलें भी बढ़ा दीं जिन्हें रोहित की वापसी के बाद सलामी बल्लेबाजों का संयोजन बनाने के लिए मशक्कत करनी होगी।

कोहली ने मैच के बाद पुरस्कार समारोह में कहा, ‘तीनों सलामी बल्लेबाज काफी मजबूत हैं और टीम में ऐसे खिलाड़ियों का होना शानदार है। इससे आपको विकल्प मिलता है। मुझे लगता है कि लोगों को खिलाड़ियों की एक दूसरे से तुलना करने से बचना चाहिए। मैं ऐसे विचार नहीं रखता हूं जहां टीम के एक खिलाड़ी से दूसरे की तुलना की जाए।’ भारतीय कप्तान को इस बात की खुशी है कि 2020 का आगाज टीम के लिए सकारात्मक रहा है। उन्होंने कहा, ‘हमने सही तरीके से शुरुआत की, एक मैच में लक्ष्य का पीछा करते हुए जीते और एक मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए जीत दर्ज किया। मैं दो शानदार प्रदर्शन से काफी खुश हूं। इससे हमें 200 रन तक पहुंचने का आत्मविश्वास मिला है।’ कोहली ‘मैन ऑफ द मैच’ शार्दुल ठाकुर और मनीष पांडे के प्रदर्शन से भी खुश दिखे जिनका ज्यादातर समय टीम के ड्रेसिंग रूम में बीतता है। उन्होंने कहा, ‘बीच के ओवरों में हमारी पारी लड़खड़ाने से स्थिति चुनौतीपूर्ण हो गई लेकिन मनीष और शार्दुल ने अच्छा प्रदर्शन किया। आने वाले मैचों में हमें ऐसे और अधिक प्रदर्शन की जरूरत होगी जिससे यह पता चल सके कि शीर्ष क्रम के विफल होने पर कौन रन बना सकता है।’ 

Related Articles

Close