राजनीति

ननकाना साहिब पर हमला करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए दबाव बनाए भारत सरकार: सोनिया

 
नई दिल्ली

पाकिस्तान में सिखों के सबसे पवित्र स्थलों में से एक ननकाना साहिब गुरुद्वारे पर हमले को लेकर भारत में भारी आक्रोश है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पाकिस्तान में भीड़ द्वारा गुरुद्वारा जन्मस्थान पर पथराव की निंदा करते हुए कहा कि इस मामले में दोषियों पर कार्रवाई के लिए भारत सरकार को पाकिस्तान पर दबाव बनाना चाहिए। शनिवार शाम सोनिया ने एक बयान जारी कर ननकाना साहिब पर भीड़ द्वारा किए गए 'अवांछित और अकारण हमले' की निंदा की।

सिख श्रद्धालुओं और इस पवित्र स्थल के कर्मचारियों की सुरक्षा को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भारत सरकार इस मामले को तत्काल पाकिस्तान की सरकार के सामने उठाए ताकि श्रद्धालुओं की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके और आगे ऐसे किसी हमले को रोका जा सके। सोनिया ने कहा कि सरकार को अपराधियों के खिलाफ तत्काल मामला दर्ज करने, उनकी गिरफ्तारी और कार्रवाई के लिए भी दबाव बनाना चाहिए।
 

राहुल ने कहा, कट्टरता खतरनाक जहर
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इसकी निंदा करते हुए कहा कि कट्टरता खतरनाक है और प्रेम ही इसका एकमात्र प्रतिकार है। राहुल गांधी ने ट्विटर पर लिखा, 'ननकाना साहिब पर हमला निंदनीय है और इसकी स्पष्ट रूप से निंदा की जानी चाहिए। कट्टरता एक खतरनाक, पुराना जहर है, जो कोई सीमा नहीं जानता है। प्यार, आपसी सम्मान, समझ इसका एकमात्र ज्ञात प्रतिकार है।'
 
गौरतलब है कि पाकिस्तान में सिख किशोरी को अगवा कर जबरन धर्मांतरण कराने के आरोपी मुस्लिम व्यक्ति के परिवार की अगुआई में कुछ लोगों ने अपने रिश्तेदारों की गिरफ्तारी के विरोध में शुक्रवार को यहां गुरुद्वारा जन्मस्थान ननकाना साहिब के बाहर प्रदर्शन किया। खबरों के अनुसार भीड़ ने गुरुद्वारे पर धावा बोल दिया और सिख श्रद्धालुओं पर पथराव किया। भारतीय विदेश मंत्रालय ने घटना की निंदा की है।

Tags

Related Articles

Close