छत्तीसगढ़रायपुर

कोरबा समेत इन 3 जिलों में खुलेगा मेडिकल कॉलेज, प्रशासनिक कवायद शुरू

कोरबा
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के आदिवासी (Tribal) बाहुल्य जिले कोरबा (Korba) में मेडिकल कॉलेज (Medical College) की सौगात जल्द मिलने जा रही है. जिलेवासी मेडिकल कॉलेज की मांग लंबे समय से कर रहे थे. राज्य सरकार कोरबा के साथ ही महासमुंद (Mahasamund) व कांकेर (Kanker) में भी मेडिकल कॉलेज खोलने की तैयारी में जुटी है. इसके लिए डायरेक्टर मेडिकल एजुकेशन ने तीनों जिले में सर्वे के बाद कॉलेज के लिए उपयुक्त जमीन-भवन व सुविधाओं का खाका तैयार कर लिया है. इतना ही नहीं उनका मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया की गवर्निंग बॉडी के सामने प्रेजेंटेशन भी दे दिया है.

कोरबा, महासमुंद और कांकेर में प्रस्तावित नए मेडिकल कॉलेज में सबसे उपयुक्त कोरबा को बताया गया. कोरबा में आईटी कॉलेज परिसर के मौजूदा भवन व हॉस्टल में मेडिकल कॉलेज खोलने और 120 बिस्तर का जिला अस्पताल व पीपीपी मॉडल से चल रहे 50 बिस्तर के ट्रामा सेंटर की जानकारी दी गई है. एमसीआई की गाइड लाइन के अनुसार वहां बिस्तर की संख्या बढ़ाकर 3सौ करने और डॉक्टर, नर्सिंग व पैरामेडिकल स्टाफ की भर्ती करके मेडिकल कॉलेज अस्पताल संचालित करने की योजना बताई गई है.

कोरबा जिला प्रशासन के द्वारा मेडिकल कॉलेज खोलने के लिए आईटी कॉलेज परिसर देने का प्रस्ताव होने के साथ ही डीएमएफ से मेडिकल कॉलेज के संचालन के लिए लगभग 350 करोड़ रुपए की उपलब्धता की जानकारी दी. अब दिए गए प्रेजेंटेशन पर एमसीआई आगे का निर्णय लेगी. बता दें कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सितंबर में शहर प्रवास के दौरान कोरबा में नए मेडिकल कॉलेज खोलने की घोषणा की थी. इसके बाद कवायद शुरू हुई. डीएमई डॉ. एसएल आदिले के नेतृत्व में टीम ने शहर पहुंचकर जिला अस्पताल व आईटी कॉलेज परिसर का सर्वे किया था. इसके बाद डीएमई ने आईटी कॉलेज परिसर में 25 एकड़ जमीन चिह्नित कर मेडिकल कॉलेज के लिए जिला प्रशासन से मांगी. कोरबा कलेक्टर किरण कौशल ने बताया कि अब जिला प्रशासन द्वारा जमीन सौंपने की तैयारी की जा रही है.

Related Articles

Close