खेल

फिटनेस में फेल होने पर पाकिस्तानी खिलाड़ियों पर लगेगा इतना जुर्माना

लाहौर
पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने शुक्रवार को चेतावनी जारी की कि केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों को टीम प्रबंधन द्वारा निर्धारित फिटनेस मानकों पर खरा उतरना होगा। ऐसा नहीं करने की स्थिति में उनके मासिक वेतन से 15 प्रतिशत राशि काट ली जाएगी। नए मुख्य कोच मिस्बाह उल हक ने राष्ट्रीय टीम के खिलाड़ियों के लिए शीर्ष स्तर के फिटनेस को जरूरी करार दिया है, क्योंकि टीम के लचर प्रदर्शन का कारण इसी की कमी है। इसके बाद ही खिलाड़ियों के लिए यह निर्देश आया है।

पीसीबी ने कहा कि अगर खिलाड़ी जरूरी न्यूनतम फिटनेस हासिल करने में असफल रहते हैं तो उनके मासिक वेतन से 15 प्रतिशत राशि काट ली जाएगी जबकि बार बार ऐसा करने की स्थिति में उस खिलाड़ी का ग्रेड घटा दिया जाएगा। पीसीबी ने कहा, ''फिटनेस की न्यूनतम शर्त पूरी नहीं करने पर खिलाड़ी को उसकी मासिक फीस का 15 प्रतिशत जुर्माना भरना होगा।''

पाकिस्तान के केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ी बाबर आजम, सरफराज अहमद और शाहीन अफरीदी का फिटनेस टेस्ट छह और सात जनवरी को होगा। पीसीबी ने एक आधिकारिक बयान में कहा है कि राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में छह और सात जनवरी को चार चरण में फिटनेस टेस्ट आयोजित कराया जाएगा, जिसमें पाकिस्तान टीम के स्ट्रैंग्थ एंड कंडीशनिंग कोच यासिर मलिक खिलाड़ियों को परखेंगे। एक विज्ञप्ति के अनुसार, ''सभी केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों को दो दिवसीय टेस्ट में मौजूद रहना होगा।''

फिटनेस टेस्ट में पांच एरिया पर ध्यान दिया जाएगा जिसमें फैट, स्ट्रैंग्थ, एंड्यूरेंस, स्पीड एंड्यूरेंस और क्रॉस फिट शामिल हैं। सभी को बराबर तवज्जो दी जाएगी। बयान में कहा गया है, “जो खिलाड़ी निरंतर इस टेस्ट में फेल होंगे उन पर केंद्रीय अनुबंध से बाहर होने का खतरा होगा।”

इसमें आगे कहा गया, ''बांग्लादेश प्रीमियर लीग खेल रहे वहाब रियाज, मोहम्मद आमिर और शादाब खान का टेस्ट 20 और 21 जनवरी को होगा।''

Related Articles

Close