देश

अलीगढ़ में माहौल सामान्य की ओर, AMU शांत

 अलीगढ़ 
नागरिकता कानून को लेकर शुरु हुए बवाल के बाद तीसरे दिन मंगलवार को एएमयू कैम्पस में माहौल सामान्य रहा। हालांकि शहर में तनाव के हालात रहे। जमालपुर में हजारों लोग सीएए और एनआरसी का विरोध करते हुए सड़क पर आ गए और जाम लगा दिया। बाब-ए-सैयद गेट पर भी पीएचडी छात्राओं व एएमयू सर्किल पर महिलाओं ने धरना दिया। अमूटा व आरडीए के बुलावे पर एएमयू पहुंचे पूर्व आईएएस हर्ष मंदर ने नागरिकता कानून व पुलिस की कार्यवाही की निंदा की।

रविवार को नागरिकता कानून के विरोध में एएमयू में जमकर बवाल हुआ था। जिसके बाद सोमवार को पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए छात्रों को छोड़े जाने की मांग व सीएए के विरोध शहरभर में जगह-जगह प्रदर्शन हुए थे। जिसकी वजह से शहर में तनाव का माहौल था। मंगलवार की सुबह से शहर में हालात सामान्य थे, लेकिन दोपहर करीब 12 बजे जमालपुर क्षेत्र में काफी तादाद में लोग सड़क पर उतर आए। हाथों में सीएए व एनआरसी के विरोध की तख्तियां व तिरंगे झंडे लेकर प्रदर्शन करने लगे और जाम लगा दिया। प्रदर्शन के चलते पूरे जमालपुर के अलावा दोदपुर, मेडीकल रोड, अमीर निशां के बाजार बंद हो गए।

प्रदर्शन की सूचना पर डीएम चंद्रभूषण सिंह, एसएसपी आकाश कुलहरि सहित पुलिस-प्रशासन व आरएएफ के अफसर मौके पर पहुंच गए। काफी समझाने के बाद भी लोग सड़क से हटने को तैयार नहीं थे। करीब दो घंटे बाद जाकर शहर मुफ्ती खालिद हमीद की अपील पर प्रदर्शनकारी जाम खोलने व सड़क से हटने को राजी हो गए।

सर्किल पर धरने पर बैठीं महिलाएं
उधर बाब-ए-सैयद गेट पर एएमयू से पीएचडी कर रही आठ छात्राएं सीएए व एनआरसी के विरोध में धरने पर बैठ गईं। इससे पूर्व इन छात्राओं द्वारा धरना मौलाना आजाद लाइब्रेरी के बाहर दिया जा रहा था। वहीं एएमयू सर्किल पर करीब आम आदमी पार्टी से जुड़ी स्थानीय महिलाएं कानून के विरोध में धरने पर बैठ गईं। कुछ देर बाद पुलिस के समझाने पर वह चली गईं।

पूर्व आईएएस ने सीएए का किया विरोध
पूर्व आईएएस व अमन सोसाइटी के अध्यक्ष हर्ष मंदर मंगलवार को अलीगढ़ पहुंचे। एएमयू में पहुंचकर वह अमूटा के पदाधिकारियों से मिले और बैठक की। वह बाब-ए-सैयद गेट पर धरना दे रहीं छात्राओं से मिलने जाना चाहते थे, लेकिन पुलिस ने उन्हें नहीं जाने दिया। जिसके बाद वह जेएन मेडीकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर पहुंचे। जहां उन्होंने रेजीडेंट डॉक्टरों को संबोधित करते हुए कहा कि पुलिस बवालियों पर कार्रवाई करे, छात्रों पर हिंसा बर्दाश्त नहीं होगी।

इंटरनेट सेवाएं व स्कूल-कॉलेज रहे बंद
अफवाहें फैलने से रोकने के लिए मंगलवार को भी जनपद में इंटरनेट सेवाएं बंद रहीं। जिसके चलते कारोबारी वर्ग काफी परेशान रहा। स्कूल-कॉलेजों का भी अवकाश रहा।

एएमयू बाब-ए-सैयद गेट पर तैनात रही आरएएफ
एएमयू बाब-ए-सैय्यद गेट व सर्किल पर आरएएफ व पुलिस-प्र्रशासनिक अफसर तैनात रहे। सुरक्षा के मद्देजनर मथुरा, बुलंदशहर, एटा, कासगंज से भी पुलिस अफसरों को भेजा गया है।

अलीगढ़ में माहौल पूरी तरह से शांत है। जमालपुर में कुछ लोगों ने नागरिकता कानून को लेकर अपना विरोध जताया था। एएमयू से भी छात्र-छात्राएं हॉस्टल खाली कर ट्रेनों व बसों से अपने-अपने घरों को जा चुके हैं। -चंद्रभूषण सिंह, डीएम

एएमयू सहित शहर में हालात सामान्य हैं। तनाव को देखते हुए आरएएफ व पीएसी तैनात कर दी गई है। असामाजिक तत्वों से कड़ाई से निपटा जाएगा। -आकाश कुलहरि, एसएसपी

Related Articles

Close