देश

नागरिकता कानून के विरोध में जामिया में एक बार फिर सड़क पर उतरे छात्र

नई दिल्ली 
नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के खिलाफ एक बार फिर दिल्ली में हिंसक प्रदर्शन हुआ है. जामिया के बाद अबकी बार ये प्रदर्शन सीलमपुर इलाके में हुआ है. यहां प्रदर्शनकारियों ने गाड़ियों में तोड़फोड़ की और आगजनी दी. हिंसक प्रदर्शन के बाद आसपास के मेट्रो स्टेशन, रोड को बंद कर दिया गया है. हालांकि, अब माहौल शांत है और प्रदर्शनकारी वापस चले गए हैं.
सीलमपुर में शांति, खोले गए मेट्रो स्टेशन के सभी गेट
सीलमपुर हिंसा के रुकने के बाद वेलकम, सीलमपुर, गोकुलपुरी, जौहरी एन्क्लेव और शिव विहार मेट्रो स्टेशन के गेट खोल दिए गए हैं.
पूर्व विधायक पर सीलमपुर का माहौल खराब करने का आरोप
सीलमपुर से AAP विधायक मोहम्मद इशराक खान ने पूर्व विधायक मतीन अहमद पर आरोप लगाते हुए कहा, 'जब पूर्व विधायक ने रैली निकाली, पूरा माहौल अस्त-व्यस्त हो गया. बाजारों को बंद कर दिया गया और गुंडों को बुलाया गया. यह किसी के लिए भी सही नहीं था. मैं प्रदर्शनकारियों से अपने घरों में वापस जाने की अपील करता हूं.'
भीड़ को उकसाने का आरोप पर पूर्व विधायक की सफाई
पूर्व विधायक और कांग्रेस नेता मतीन अहमद ने भीड़ को उकसाने के आरोप पर कहा कि उन्होंने बाइक रैली को बुलाया था, लेकिन यह सब शुरू होने से पहले उनकी बाइक रैली समाप्त हो गई थी.

Tags

Related Articles

Close