खेल

विराट बने दुनिया के 5वें सबसे सफल कप्तान, ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज एलन बॉर्डर को पछाड़ा

 नई दिल्ली 
सफलता के रथ पर सवार भारतीय कप्तान विराट कोहली आस्ट्रेलिया के एलेन बार्डर को पीछे छोड़कर दुनिया के पांचवें सबसे सफल कप्तान बन गए हैं। विराट ने यहां ईडन गार्डन में रविवार को बंगलादेश को दूसरे टेस्ट में पारी और 46 रन की अंतर से हराकर यह उपलब्धि अपने नाम की। विराट की अपनी कप्तानी में 53 मैचों में यह 33वीं जीत है और इसके साथ ही वह आस्ट्रेलिया के दिग्गज कप्तान एलेन बार्डर से आगे निकल गए हैं। बार्डर ने 1984-94 के बीच 93 टेस्टों में आस्ट्रेलिया की कप्तानी की थी और 32 टेस्ट जीते थे। 

कप्तानी में सर्वाधिक टेस्ट जीतने के मामले में विराट से आगे वेस्टइंडीज़ के क्लाइव लॉयड (36 टेस्ट जीत), ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ (41) और रिकी पोंटिंग (48) तथा दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ (53) हैं। विराट की कप्तानी में भारत ने 11वीं बार पारी से जीत हासिल की। महेंद्र सिंह धोनी ने अपनी कप्तानी में नौ टेस्ट पारी से जीते थे।
 

मोहम्मद अज़हरूद्दीन ने आठ टेस्ट और सौरभ गांगुली ने सात टेस्ट पारी के अंतर से जीते थे। विराट ने इसके साथ ही लगातार चार टेस्ट पारी से जीतने का अज़हरूद्दीन का रिकार्ड तोड़कर नया विश्व रिकॉर्ड बना दिया है। अज़हर की कप्तानी में भारत ने 1992-93 और 1993-94 में लगातार तीन टेस्ट पारी के अंतर से जीते थे।

विराट की अपनी कप्तानी में यह लगातार सातवीं जीत है और उन्होंने लगातार छह टेस्ट जीतने के धोनी के रिकार्ड को तोड़ दिया है। विराट ने वेस्टइंडीज़ में दो टेस्ट, दक्षिण अफ्रीका से तीन घरेलू टेस्ट और बंगलादेश से दो घरेलू टेस्ट जीते हैं। धोनी ने 2013 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ चार टेस्ट और वेस्टइंडीज़ के खिलाफ दो टेस्ट जीते थे। 
 

भारतीय रन मशीन और कप्तान विराट कोहली ने इस मैच में अपने शतक के साथ कप्तान के तौर पर 5000 रन भी पूरे कर लिए और कप्तान के रूप में सबसे तेज 5000 रन बनाने वाले खिलाड़ी भी बन गए। इस शतक के साथ वह भारत के विशिष्ट बल्लेबाजों के एलीट क्लब में शामिल हो गये हैं। विराट ने भारत के पांच प्रमुख टेस्ट केंद्रों मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बेंगलुरू और दिल्ली में टेस्ट शतक बनाने की अद्भुत उपलब्धि हासिल कर ली। इससे पहले यह उपलब्धि गुंडप्पा विश्वनाथ, सुनील गावस्कर और सचिन तेंदुलकर के नाम थी।

भारतीय कप्तान का यह 27वां टेस्ट शतक था और वह सर्वाधिक टेस्ट शतकों के मामले में संयुक्त 17वें नंबर पर पहुंच गये हैं। उनके साथ इस स्थान पर दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ और ऑस्ट्रेलिया के एलेन बार्डर हैं। विराट ने विश्व के नंबर एक बल्लेबाज़ स्टीवन स्मिथ (26 शतक) और वेस्टइंडीज़ के महान ऑलराउंडर गैरी सोबर्स  (26 शतक) को पीछे छोड़ा।

विराट के इस शतक के साथ क्रिकेट के तीनों फामेर्ंट में अब 70 शतक हो गये हैं और वह तीनों फॉर्मेट में सर्वाधिक शतकों के मामले में हमवतन सचिन तेंदुलकर और आस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग के बाद तीसरे नंबर पर है। पोंटिंग के 560 मैचों में 71 शतक और सचिन के 664 मैचों में 100 शतक हैं। विराट के 395 मैचों में 70 शतक हैं जिसमें टेस्ट में 27 और वनडे में 43 शतक हैं।

Tags

Related Articles

Close