छत्तीसगढ़रायपुर

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति ’’दिशा’’ की बैठक

उत्तर बस्तर कांकेर
सांसद मोहन मण्डावी की अध्यक्षता में जिला पंचायत के सभाकक्ष में शनिवार को जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति ’’दिशा’’ की बैठक आयोजित की गई, जिसमें अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि जिले में निर्माणाधीन विभिन्न कार्यों जैसे- सड़क, पुल-पुलिया, भवन इत्यादि की गुणवत्ता सुनिश्चित किया जाय। शहरों के लावरिस मवेशियों को कांजी हाउस में डालने और सड़कों की मरम्मत कार्य एक महीने में पूरा करने के लिए निर्देशित किया गया। इस अवसर पर जनपद पंचायत कांकेर के अध्यक्षमती पुष्पा सलाम, विधायक प्रतिनिधि सुनील गोस्वामी, कलेक्टर केएल चौहान, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ संजय कन्नौजे भी मौजूद थे।

बैठक में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क, लोक निर्माण विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग, जल संसाधन, खनिज, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, कृषि, शिक्षा विभाग, समाज कल्याण विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग तथा नगरीय निकायों में संचालित विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों की  समीक्षा किया गया। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना की समीक्षा के दौरान बताया गया कि जिले में 01 लाख 40 हजार जॉबकार्ड धारी परिवार हैं। मजदूरी का भुगतान बैंक एवं पोस्ट ऑफिस खाता के माध्यम से किया जाता है, वर्तमान में मजदूरी भुगतान लंबित नहीं है। मनरेगा अंतर्गत गौठान निर्माण और नरवा के जीर्णोद्धार का कार्य भी कराया जा रहा है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना और लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए सड़़कों की मरम्मत एक महीने के भीतर पूरा करने के लिए कहा गया। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में निर्मित नवीन सड़कों की सूची उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिये गये। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की समीक्षा के दौरान बताया गया कि दिसम्बर महीने तक कांकेर जलआवर्धन योजना में पाईप लाईन बिछाने और टंकी से जोड़ने का कार्य पूरा हो जाएगा। पानी टंकी के निर्माण में भी गुणवत्ता का ध्यान रखने के निर्देश दिए गये। विद्युत विभाग की समीक्षा में बताया गया कि जिले के 30 ग्रामों में दिसम्बर माह तक विद्युतिकरण का कार्य पूरा कर लिया जाएगा। कृषि विभाग द्वारा रबी सीजन के लिए पर्याप्त मात्रा में बीज की व्यवस्था होने की जानकारी दिया गया।

सांसद मोहन मण्डावी ने अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शासन द्वारा जो भी दायित्व सौंपे गये हैं उसका अक्षरशः पालन किया जाए। सड़क, पुल-पुलिया, भवन निर्माण में गुणवत्ता का ध्यान रखा जाय तथा क्षेत्र में जो भी समस्या या परेशानी हो तो उसके बारे में अवगत कराया जाय। उन्होंने कहा कि आगामी बैठक में जिले में संचालित प्रत्येक योजनाओं के क्रियान्वयन की गहन समीक्षा की जाएगी। बैठक में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति ’’दिशा’’ के सदस्य रामबाई गोटा, कौशिल्या शोरी, रीना आंचला, साहबती रावटे, विद्यासागर ध्रुव और रामचरण कोर्राम सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Close