छत्तीसगढ़रायपुर

2500 में धान खरीदी के खिलाफ क्यों हैं भाजपा – चौबे

रायपुर
कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा है कि भाजपा के पास न कोई कहने के लिये मुद्दा है न घेरने का मुद्दा है,बोनस देने में उन्होने किसानों के साथ छल क्यों किया? इतना तो उत्तर तो वो देंगे न केन्द्र में उनकी सरकार बनने के पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था स्वामीनाथन की रिपोर्ट लागू करेंगे इसे लागू क्यों नहीं किया गया. मुख्यमंत्री ने कहा है कि छत्तीसगढ़  के किसानों को पिछले साल भी हम छत्तीसगढ़ की राज्य के बजट से दिये थे और इस साल भी हम छत्तीसगढ़ की राज्य की बजट से देंगे। पिछले साल 80 लाख मेट्रिक टन धान खरीदी की थी इस बार 85 लाख मेट्रिक टन से अधिक धान खरीदेंगे ये हमारा वादा है सरकार का वादा है।

छत्तीसगढ़ सरकार कृत संकल्पित है छत्तीसगढ़ की किसानों की धान खरीदने के लिये इसलिये इस प्रकार की सारी व्यवस्थाओं की शुरूआत भी कांग्रेस सरकार बनते ही शुरू की थी और इस बार भी करेंगे जो क्षतिपूर्ति का आंकलन कर रहे है पूरे धान खरीदी के बचा रह जाता है हमारी केन्द्र सरकार से मांग तो है या लड़ाई जो इसी मुद्दे पर है। छत्तीसगढ़ में धान खरीदी होगी हमारे यहां जो कस्टम मिलिंग होगा उसके बाद का बचा हुआ धान का स्पादन छत्तीसगढ़ सरकार चाहती है और केन्द्र से चार चि_ी लिखकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अनुरोध किया आज तक प्रश्न करने तक केन्द्र सरकार ने सहमति नहीं दी है तो यही तो विवाद का कारण है हम लोग चाहते है धान का पूरा निष्पादन हो जाये और छत्तीसगढ़ को केन्द्र की मद्द मिलनी चाहिये। प्रधानमंत्री जी से हम लोग आग्रह करना चाहेंगे कि छत्तीसगढ़ भारत भूमि का हिस्सा है वहां किसानों को अलग करके नहीं देखा जाना चाहिये।

Related Articles

Close