छत्तीसगढ़बिलासपुर

जाति छानबीन समिति की रिपोर्ट देख सकेंगे जोगी व नेताम

बिलासपुर
पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की उस याचिका को हाईकोर्ट ने स्वीकार कर लिया है जिसमें उन्होंने जाति छानबीन समिति के दस्तावेजों की अभिप्रमाणित प्रति दिलाने की मांग की थी। इसके अलावा हस्तक्षेपकर्ता संतकुमार नेताम की भी याचिका स्वीकार करते हुए उन्हें भी दस्तावेजों की प्रति प्राप्त करने का अवसर दिया गया है।

नेताम की ओर से अधिवक्ता संदीप दुबे ने जाति छानबीन समिति की रिपोर्ट के खिलाफ अजीत जोगी द्वारा दायर याचिका में हस्तक्षेप याचिका दायर की है। नेताम की ओर से अधिवक्ता ने भी समिति की रिपोर्ट को देखने व उसकी प्रमाणित प्रतिलिपि प्राप्त करने की याचिका लगाई थी। जस्टिस आरसीएस सामंत की कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई के बाद पिछले दिनों फैसला सुरक्षित रखा था। सोमवार को इस मामले में उन्होंने निर्णय दिया। अब इस मामले की सुनवाई 27 नवंबर को पेश होगी जिसमें सम्बन्धित पक्ष जवाब-दावा पेश कर सकेंगे।

Related Articles

Close