विदेश

नवाज शरीफ इलाज कराने के लिए लंदन जाएंगे: मरियम

लाहौर
पाकिस्तान के बीमार चल रहे पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने डॉक्टरों और परिवार की सलाह पर इलाज कराने के लिए लंदन जाने की बात मान ली है। उनकी बेटी मरियम नवाज ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। मीडिया से बातचीत में उन्होंने बताया कि परिवार 69 वर्षीय पीएमएल(एन) सुप्रीमो की सेहत को जोखिम में नहीं डाल सकता , इसलिए उन्हें विदेश भेजने का फैसला लिया गया है।

मरियम (46) ने बताया कि वह अपने पिता के साथ नहीं जा सकेंगी, क्योंकि उनका नाम अब भी एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) में है। ARY न्यूज ने मरियम के हवाले से कहा, 'शहबाज शरीफ पूर्व प्रधानमंत्री की यात्रा से संबंधित सभी इंतजाम देख रहे हैं। पिछले साल अपनी मां को खोने के बाद अब मेरे पिता ही मेरे सबकुछ हैं।' गौरतलब है कि शरीफ की पत्नी कुलसुम का पिछले वर्ष लंदन में गले के कैंसर के कारण निधन हो गया था।

लाहौर उच्च न्यायालय से बुधवार को जमानत पर रिहा की गई मरियम ने कहा कि शरीफ अपनी गंभीर सेहत के कारण विदेश जाकर इलाज कराने पर राजी हो गए हैं। शरीफ को बुधवार को लाहौर में उनके जट्टी उमरा रायविंड स्थित आवास ले जाया गया था। वह दो सप्ताह तक कई बीमारियों के इलाज के लिए पाकिस्तान के एक अस्पताल में भर्ती रहे थे। शरीफ (69) का प्लेटलेट काउंट कम होकर 2000 रह गया था, जिसके बाद उन्हें 22 अक्टूबर को सर्विसेज हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। वह भ्रष्टाचार निरोधक इकाई की हिरासत में थे।

चौधरी शुगर मिल्स मामले की सुनवाई के लिए लाहौर की जवाबदेही अदालत में पेशी के दौरान पत्रकारों से बातचीत में मरियम ने कहा कि शरीफ को जल्द से जल्द इलाज के लिए विदेश जाना चाहिए। यह पूछे जाने पर कि क्या ईसीएल से पूर्व प्रधानमंत्री का नाम हटाने के लिए कोई अनुरोध किया गया है, इस पर मरियम ने कहा, 'मुझे नहीं मालूम। जब मैं घर जाऊंगी तो इसे देखूंगी।'

इससे पहले शरीफ के परिवार के एक सदस्य ने बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री इस सप्ताह लंदन रवाना हो सकते हैं अगर सरकार उनका नाम ईसीएल से हटा देती है। डॉन अखबार ने शरीफ के परिवार के एक सदस्य के हवाले से कहा, 'आखिरकार नवाज शरीफ लंदन जाने के लिए राजी हो गए।' समा टीवी ने बताया कि शहबाज ईसीएल से शरीफ का नाम हटाने के लिए अर्जी दायर करेंगे और शुरुआत में कहा गया था कि यह शनिवार को दी जाएगी लेकिन सरकार ने शुक्रवार को अर्जी मिलने की पुष्टि की।

सरकार अगर अनुरोध को मंजूरी दे देती है तो शरीफ अगले सप्ताह रवाना हो जाएंगे। उनकी मेडिकल रिपोर्ट लंदन में डॉक्टरों के पास भेजी गई थी और उन्होंने जल्द से जल्द इलाज के लिए आने की सलाह दी। सरकार के सूत्रों के अनुसार, शरीफ के अनुरोध का मानवीय आधार पर आकलन किया जाएगा।

Tags

Related Articles

Close