भोपाल

मुख्यमंत्री से मंत्रियों की रशिकायत करेगा कांग्रेस संगठन

 भोपाल
मंत्रियों के मोबाइल फोन नहीं उठाने से राष्टÑीय महासचिव दीपक बाबरिया के बाद अब संगठन के प्रमुख पदाधिकारी भी परेशान हो गए हैं। वे अब मुख्यमंत्री कमलनाथ से ऐसे मंत्रियों की शिकायत करने की तैयारी में जो मोबाइल फोन नहीं उठाते। इसे लेकर कई बार मंत्रियों को संदेश भी दिया गया, लेकिन कुछ मंत्री अब भी संगठन के प्रमुख पदाधिकारियों के मोबाइल फोन नहीं रहे हैं।
सूत्रों की मानी जाए तो पीसीसी के आधा दर्जन प्रमुख पदाधिकारियों को पार्टी के कार्यक्रमों को लेकर आए दिन मंत्रियों को मोबाइल फोन लगाना होते हैं। ऐसे में आधा दर्जन मंत्री ऐसे है जिनके मोबाइल फोन उनके स्टाफ के लोग उठाते हैं। मोबाइल फोन उठाने के बाद भी स्टाफ के लोग मंत्री से प्रदेश पदाधिकारियों की बात नहीं कराते हैं। ऐसा पिछले दस महीनों में कई बार हो चुका। पदाधिकारी इस संबंध में सभी मंत्रियों को बता चुके हैं, इसके बाद भी कुछ मंत्री के यहां पर व्यवस्था नहीं बदली गई। अब पीसीसी के इन प्रमुख पदाधिकारियों ने यह तय किया है कि वे मुख्यमंत्री कमलनाथ से इस संबंध में मंत्रियों की शिकायत करेंगे। हालांकि इस शिकायत को लेकर कांग्रेस का कोई भी पदाधिकारी कुछ बोलने को तैयार नहीं है।
बावरिया हो चुके हैं नाराज
मंत्रियों के फोन नहीं उठाने को लेकर कांग्रेस के राष्टÑीय महासचिव एवं प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया भी सार्वजनिक रूप से नाराजगी जता चुके हैं। उन्होंने भोपाल में आयोजित हुए पार्टी के एक कार्यक्रम में कहा था कि मंत्री उनका तक फोन नहीं उठाते हैं। उन्होंने चेतावनी भी दी थी कि यदि मंत्रियों ने मोबाइल फोन उठाने की व्यवस्था नहीं सुधारी तो वे पार्टी की राष्टÑीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के सामने उस मंत्री को खड़ा कर देंगे। हालांकि बाबरिया की इस नसीहत के बाद भी आधा दर्जन मंत्री प्रदेश कांग्रेस के पदाधिकारियों के अब भी मोबाइल फोन नहीं उठाते हैं।

Related Articles

Close