देश

अयोध्या केस : सोशल मीडिया पर गलत टिप्पणी की तो होगी जेल

 लखनऊ 
अयोध्या केस के फैसले के मद्देनजर यूपी सरकार ने अयोध्या के चप्पे-चप्पे पर नजर जमा दी है। ड्रोन से अयोध्या शहर की निगरानी की जा रही है। अयोध्या को लेकर स्थानीय प्रशासन ने कई शांति कमेटियां बनाई हैं। इन कमेटियों में शामिल लोग जिले के गांवों में जाकर लोगों से शांति और प्रेम बनाए रखने की अपील कर रहे हैं।

भावुकता में की गई टिप्पणी पर भी जेल
पुलिस प्रशासन जनसहयोग के जरिये भी शांति-व्यवस्था बनाए रखने की पुरजोर कोशिश कर रहा है। अफवाहें न फैले लिहाजा सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने वालों से सख्ती से निपटने के निर्देश हैं।

आईजी प्रवीण कुमार ने अपील की है कि युवाओं को चाहिए कि वह सोशल मीडिया पर भावुकता में बहकर कोई ऐसी टिप्पणी न करें जिससे कहीं बवाल हो जाए। ऐसी स्थिति में उनकी गिरफ्तारी की जा सकती है। इसके लिए आईपीसी की धारा 153, 153 ‘ए', 505 (2), 295 के तहत कार्रवाई की जाएगी। आईजी प्रवीण कुमार ने कहा कि सभी थानेदारों को यह निर्देश दिया गया है कि अगर किसी भी तरह की टिप्पणी या हरकत से शांति व्यवस्था बिगड़ती है तो उसके खिलाफ रासुका की कार्रवाई *की जाएगी।

Related Articles

Close