भोपाल

जबलपुर सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल में हो रहा जटिल रोगों का अत्याधुनिक इलाज

भोपाल

जबलपुर के शासकीय मेडिकल कॉलेज में सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल खुलने से जबलपुर सहित सिवनी, बालाघाट, कटनी, सागर, दमोह, छिन्दवाड़ा, शहडोल, आदि जिलों के लोगों को उच्च गुणवत्ता की आधुनिकतम चिकित्सा सुविधा मिलने लगी है। इससे जटिल रोगों के इलाज के लिये एम्स दिल्ली और पड़ोसी राज्यों में लोगों का जाना कम होने लगा है। जबलपुर सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल ने किसी भी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय द्वारा सुपर स्पेशियालिटी सुविधा दिलाने में एक लम्बी छलांग लगाई है।

प्रमुख सचिव  शिवशेखर शुक्ला ने बताया कि 220 बिस्तर की क्षमता वाले सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में आज 146 मरीज भर्ती हुए। इनमें से 45 मरीज अकेले न्यूरो सर्जरी वार्ड में भर्ती किये गये। मुख्यमंत्री  कमल नाथ द्वारा गत 21 सितम्बर को आरंभ किये गये इस अस्पताल में नेफ्रोलॉजी को छोड़कर सभी विधाओं में नियमित रूप से रूटीन चेकअप और सर्जरी की जा रही है। नेफ्रोलॉजी विभाग भी कुछ ही दिनों में काम करना शुरू कर देगा। अब तक लगभग 11 हजार लोग यहाँ चिकित्सा सुविधा का लाभ उठा चुके हैं।

 शुक्ला ने बताया कि यह अस्पताल चिकित्सा विभाग की अति विशिष्ट विधाओं जैसे कि न्यूरो सर्जरी, न्यूरोलॉजी, यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, न्यूनेटोलॉजी, कॉर्डियोलॉजी की अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस है। उच्च गुणवत्ता की चिकित्सा सुविधा के लिये अस्पताल में पूरे देश से विशेषज्ञ चिकित्सक उपलब्ध कराये गये हैं। अत्याधुनिक मशीनों से युक्त इस अस्पताल में 7 विश्व-स्तरीय मॉड्यूलर ऑपरेशन थियेटर, केथ लैब, बाईप्लेन डीएसए आदि हैं। यहाँ मस्तिष्क एवं रीढ़ की हड्डी के सभी ऑपरेशन, लकवा, बायपास सर्जरी, डायलिसिस, लेजर पद्धति से पथरी एवं प्रोस्टेट ग्रंथि के इलाज तथा बिना चीरे मस्तिष्क के एन्युरिजम आदि का इलाज संभव हो गया है।

Tags

Related Articles

Close