ग्वालियर

कमलनाथ सराकर ने शिकायती आवेदन को समय पर निराकरण करने के दिए निर्देश

भिंड
मध्य प्रदेश में कमलनाथ सराकर ने शिकायती आवेदन को समय पर निराकरण करने के सख्ती से निर्देश दिए हैं। लेकिन कुछ अफसरों की लापरवाही के कारण लगातार शिकायतों का निराकरण होने में विलंब हो रहा है। ऐसा ही मामला भिंड जिले में सामने आया है। जहां जिला कलेक्टर ने 37 प्रशासनिक अफसरों को नोटिस जारी किया है। इन अधिकारियों ने शिकायती आवेदनों का समय सीमा में निराकरण नहीं किया था। जिस वजह से उन पर कार्रवाई की गई है। यही नहीं सफाई देने के लिए तीन दिन में जवाब पेश करने के आदेश दिए गए हैं।

दरअसल, मध्य प्रदेश में सरकार ने आमजन की परेशानियों को हल करने के लिए सीएम हेल्पलाइन की सुविधा प्रदान की है। इस हेल्पलाइन के जरिए जनता की समस्या अधिकारियों के पास पहुंचती है। लेकिन अफसरों की लापरवाही के कारण एक्शन होने में देरी हो जाती है। इसी तरह से भिंड में भी मामला सामने आया है।

भिंड जिले के भी लोगों ने अपनी शिकायत सीएम हेल्पलाइन के माध्यम से की थी। शिकायत के बावजूद भी अधिकारियों ने जनता की समस्यों के निराकरण में लापरवाही बरती। अधिकारियों के इस रवैये की जानकारी मिलने पर कलेक्टर छोटे सिंह ने 37 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस थमाते हुए तीन दिन के भीतर जवाब मांगा है।

Related Articles

Close