देश

 यूपी में भड़काऊ पोस्ट पर लगेगा राष्ट्रीय सुरक्षा कानून 

ग्रेटर नोएडा। सोशल मीडिया पर धार्मिक व जातिगत कमेंट कर भड़काने की कोशिश करने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई की जाएगी। ग्रेटर नोएडा में डीएम बीएन सिंह ने यह चेतावनी जारी की है। वहीं, जिला प्रशासन के साथ ही पुलिस की टीमें भी सोशल मीडिया पर नजर रखे हुए हैं। बताया ज रहा है ‎कि 24 घंटे के अंदर प्रदेश में ऐसे 14 केस दर्ज कराए गए हैं। वहीं, 67 सोशल मीडिया अकाउंट को भी बंद कराया गया है। इस दौरान लखनऊ में हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की हत्या के बाद सोशल मीडिया पर चल रही अफवाहों की वजह से यह आदेश जारी किया गया है। क्यों‎कि विडियो वायरल होने के बाद ही कमलेश तिवारी पर हमला किया गया था। ‎जिसके बाद से सोशल मीडिया पर धार्मिक कट्टरता और नफरत भरे मेसेज जमकर वायरल किए जा रहे हैं। इसके वजह से ट्विटर पर ऐसे ही धार्मिक नफरत को बढ़ावा देने वाले 2 मेसेज देश में दूसरे और चौथे नंबर पर ट्रेंड कर रहे है। ‎जिसके कारण डीएम बीएन सिंह ने धार्मिक और जातिगत मेसेज के जरिए उन्माद फैलाने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की चेतावनी दी। वही, ऐसे लोगों पर नजर रखने के लिए सर्विलांस टीम को भी लगाया गया है। बताया गया ‎कि वॉट्सऐप ग्रुप, ट्विटर, फेसबुक, इंस्टाग्राम आदि की यह टीम निगरानी कर रही है। इसके चलते गो रक्षा हिंदू दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष वेद नागर ने कमलेश तिवारी की हत्या का बदला लेने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि कमलेश एक हिंदू योद्धा थे। अगर उनके परिवार को जरूरत होगी तो वे उनका खर्च भी उठाने को तैयार हैं। साथ ही परिवार के लिए घर भी देने को तैयार हैं। 

Tags

Related Articles

Close