राजनीति

पीएम मोदी बोले- विकास के पथ पर चलना शुरू कर चुका है जम्मू-कश्मीर

महाराष्ट्र और हरियाणा में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के मद्देनजर रैलियों का दौर जारी है। ऐसे में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हरियाणा के फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में रैली को संबोधित कर रहे हैं। बता दें कि प्रधानमंत्री ने रविवार तो महाराष्ट्र के साकोली और भंडारा में जनसभा को संबोधित किया था। वहीं कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने रविवार को ही महाराष्ट्र के चांदीवली और लातूर में रैली की थी। जलगांव में पीएम मोदी ने कहा था कि बीते कुछ महीनों में कांग्रेस-एनसीपी के नेताओं के बयान देख लीजिए। जम्मू-कश्मीर को लेकर जो पूरा देश सोचता है, उससे एकदम उल्टा इनकी सोच दिखती है। इनका तालमेल पड़ोसी देश के साथ मिलता जुलता है।

पीएम मोदी की बल्लभगढ़ रैली की खास बातें 

-ईमानदारी और निष्ठा से हो रहा हरियाणा का विकास, यहां की यहां की सुधरती कनेक्टिविटी में भी दिखता है। पलवल हो, बल्लभगढ़ हो, फरीदाबाद हो, यातायात और कनेक्टिविटी की एक से बढ़कर एक आधुनिक सुविधाएं यहां तैयार हो रही हैं।

-हरियाणा में सरकारी भर्ती का मतलब पहले होता था, रिश्वतखोरी और युवाओं से लूट। नौकरियों के लिए जितने तरह के खेल होते थे, उन्होंने यहां के कई नेताओं को जेल तक पहुंचाया है। ये स्थिति अब बदल चुकी है।

-बीते 5 सालों में जितने भी प्रयास केंद्र में हुए हैं, उनको हरियाणा में तेज़ी से साकार करने का काम मनोहर लाल जी और उनकी समर्पित टीम ने किया है।
बीते 5 वर्षों में हरियाणा में करीब-करीब 9 लाख शौचालय बनाए गए हैं। आज हरियाणा का हर गांव खुले में शौच से मुक्त है।

-जो हमारा श्रमिक वर्ग है, उसके लिए भी पहली बार सार्थक काम हो रहे हैं। श्रमिक साथियों को जीवन के हर कदम पर जरूरी सुरक्षा मिले, इस पर हमारा जोर है। 60 वर्ष की आयु के बाद 3 हज़ार रुपए की नियमित पेंशन इसी सुरक्षा चक्र का हिस्सा है।

-हमारे किसान, हमारे व्यापारी, हमारे श्रमिक साथी, हमारी बहनें, जो देश के विकास का मजबूत स्तंभ हैं, उनको मजबूत करने के लिए भी अनेक कदम उठाए गए हैं।

-इतना ही नहीं जो हमारे पुलिस के, केंद्रीय बलों के जवान नक्सलियों और आतंकियों से लोहा लेते हुए शहीद हो जाते थे, उनके बच्चों को भी इसके दायरे में लाया गया है।

-भाजपा के लिए उसका संकल्प पत्र, समर्पण का दस्तावेज है। हम हर संकल्प को पूरा करने का काम तेज़ी से कर रहे हैं। सरकार बनते ही शहीदों के बच्चों की स्कॉलरशिप को बढ़ाने का फैसला लिया गया।

-देश की राय साफ है। अब सिर्फ विरोध और प्रतिरोध की राजनीति नहीं चलेगी। अब देश सिर्फ और सिर्फ विकास चाहता है और मैं ये संतोष के साथ कह सकता हूं कि भाजपा और उसके साथी, इसके लिए ईमानदारी से प्रयास कर रहे हैं।

-सरकार ने पशुओं के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए देश का सबसे बड़ा अभियान शुरु किया है। पलवल समेत पूरे हरियाणा में तो पशुधन गांव-गरीब का बहुत बड़ा सहारा है।

-देश में हो रहे हर सुधार के सामने, हर परिवर्तन के सामने, कांग्रेस और उसके जैसे दल, दीवार बनकर खड़े हो रहे हैं। आपने देखा है कि कैसे तीन तलाक के खिलाफ कानून को इन लोगों ने हर बार रोका, तरह-तरह के बहाने बनाकर रोका।

-कांग्रेस और उसके जैसे दलों की करनी कैसी रही है, इसका जीता जागता सबूत रहा है वन रैंक वन पेंशन। ये लोग आपसे झूठ बोलते रहे लेकिन वन रैंक वन पेंशन लागू नहीं किया। आज न ये सिर्फ सच्चाई है बल्कि हरियाणा के भी करीब-करीब दो लाख पूर्व फौजियों को इसका लाभ मिल चुका है।

-हमारी सरकार ने सारी रुकावटों को दूर करके, तेजस की उड़ान को नए पंख लगाए। आज तेजस भारतीय वायुसेना की शान बन रहा है।

-ये कितना भी विरोध करें, कितनी ही साजिशें करें, राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए, सेना के सशक्तिकरण के लिए भाजपा प्रतिबद्ध है और हम उसे लगातार गति दे रहे हैं। हमारे अपने तेजस लड़ाकू विमान को इन लोगों ने डिब्बे में बंद करने की तैयारी कर ली थी। पता नहीं किसका दबाव था।

-राफेल लड़ाकू विमान को लेकर इन्होंने लोकसभा चुनाव के दौरान कैसी हायतौबा मचाई थी। इन लोगों ने पूरा जोर लगा दिया था कि ये विमान समझौता रद्द हो जाए, भारत में नया लड़ाकू विमान न आने पाए। लेकिन आज मुझे खुशी है कि इन लोगों की तमाम कोशिशों के बावजूद भारत को पहला लड़ाकू विमान सौंपा जा चुका है।

आज पूरा देश ये भी देख रहा है कि जिनके हितों पर इस फैसले से चोट हुई है, वो सदमे में हैं, तिलमिलाए हुए हैं। ये लोग इस फैसले पर सवाल उठा रहे हैं, विदेशों में जाकर मदद मांग रहे हैं।

ये हरियाणा की, पूरे देश की भावना थी कि, जम्मू-कश्मीर को अलगाव और हिंसा से निकालकर, सद्भाव और सशक्तिकरण की तरफ ले जाया जाए। आज जम्मू कश्मीर और लद्दाख, विकास और विश्वास के एक नए रास्ते पर चल पड़ा है।

-आपके इसी विश्वास और उसके साथ से मिली ऊर्जा का ही परिणाम है कि भारत आज वो फैसले ले रहा है, जिसकी कोई कल्पना नहीं कर सकता था। मैं किस फैसले की बात कर रहा हूं, आपको पता है न? ये फैसला है आर्टिकल 370 का।

-आज आप देख रहे हैं कि कैसे पूरी दुनिया, दुनिया के बड़े-बड़े नेता भारत के साथ खड़े होने के लिए, भारत के साथ आने के लिए आतुर हैं। आपने जो जनादेश दिया है उससे दुनिया में ये संदेश दिया है कि अब भारत का समाज बंटा हुआ नहीं है बल्कि एकजुट होकर विकास और विश्वास की नीति के साथ खड़ा है।

-विशेषतौर पर हमारे युवा साथियों ने, किसान और श्रमिक साथियों ने, हमारी बहनों ने, नई उम्मीदों और नए सपनों के लिए कमल के निशान पर बटन दबाया।

-ये इस धरती का, यहां के लोगों का सहयोग और समर्थन है जिन्होंने मनोहर लाल जी और उनकी टीम को ताकत दी है।आपका यही आशीर्वाद हमें लोकसभा चुनाव के दौरान भी मिला है।

-संयोग देखिए, जो तब मुझसे कैप्टन को लेकर सवाल करते थे, वो आज अपनी बिखरी टीम को ही समेटने में एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे हैं। वो खुद को जितना समेटने की कोशिश कर रहे हैं, उतना ही बिखरते जा रहे हैं।

-आज 5 साल बाद कैप्टन भी पूरी बुलंदी के साथ आपके सामने है और मज़बूत टीम भी। यही टीम है जिसने विकास के मामले में हरियाणा को अग्रणी रखा है, अव्वल रखा है।

-मुझे याद है कि 5 वर्ष पहले जब मैं हरियाणा में भाजपा सरकार बनाने की बात करता था, तो सामने से हमारे विरोधी पूछते थे कि कैप्टन कौन है? तब मेरा जवाब होता था कि हरियाणा ने अगर अवसर दिया तो, हरियाणा को एक सक्षम कैप्टन भी मिलेगा, मज़बूत टीम भी मिलेगी।

-हरियाणा ने मुझे बहुत सिखाया है और इसलिए जब भी मैं यहां आता हूं, तो एक अलग ही भावना रहती है। यहां का विकास, यहां के लोगों के जीवन में बदलाव मेरी हमेशा प्राथमिकता रही है। 

Tags

Related Articles

Close