मध्य प्रदेश

 ईको टूरिज्म को बढ़ावा देने 1.20 लाख विद्यार्थियों को कराएंगे वन क्षेत्रों का भ्रमण

भोपाल । वन मंत्री उमंग सिंघार ने कहा है कि ईको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिये इस वर्ष शासकीय और अशासकीय विद्यालयों के 1 लाख 20 हजार विद्यार्थियों को वन क्षेत्रों में भ्रमण कराया जायेगा। श्री सिंघार आज वन विहार की विहार वीथिका में राज्य स्तरीय वन्य-प्राणी सप्ताह के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लोग आज वनों से दूर होते जा रहे हैं। इसलिये ईको टूरिज्म को प्रोत्साहित करना जरूरी हो गया है। मंत्री श्री सिंघार ने कहा कि मध्यप्रदेश को टाईगर स्टेट घोषित किया गया है। अभी प्रदेश में 526 टाईगर हैं। इस संख्या में वृद्धि के लिये गुजरात सरकार से सहयोग का आग्रह किया गया है। श्री सिंघार ने इस मौके पर लोगों को वनों और वन्य-प्राणियों के संरक्षण, सर्वधन और सुरक्षा की शपथ दिलाई और ग्रीन कलेण्डर का विमोचन किया। इस मौके पर 'वनरक्षक प्रोटेक्टर ऑफ पेराडाइज' वृतचित्र का प्रदर्शन किया गया। वन मंत्री ने वृत चित्र के निर्माता युवा फिल्मकार श्री फरहान खान को स्मृति चिन्ह भेंट किया।

पुरस्कार वितरण
वन मंत्री श्री सिंघार ने विभिन्न प्रतियोगिताओं में विजयी महाविद्यालयीन और विद्यालयीन विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया। राज्य स्तरीय वन्य-प्राणी सप्ताह 2019 में आयोजित प्रतियोगिताओं में करीब 3200 प्रतिभागियों ने भाग लिया। सप्ताह के दौरान चित्रकला, वन्यप्राणी फोटो, वन्यप्राणी संरक्षण के लिये युवा संसद, फोटोग्राफी कार्यशाला, शिक्षक कार्यशाला, सृजनात्मक कार्यशाला, रंगोली, पाम पेंटिग एवं मेहंदी क्विज, फेन्सी ड्रेस, फेस पेंटिग प्रतियोगिताएँ आयोजित की गई।
कार्यक्रम में प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख यू. प्रकाशम, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (उत्पादन) एस.पी. रयाल, प्रबंध संचालक लघु वनोपज सहकारी संघ एस.के. मण्डल, प्रबंध संचालक वन विकास निगम भरत कुमार शर्मा, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (कैम्पा) ए.बी. गुप्ता, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (कार्य आयोजना एवं वन भू-अभिलेख) रमेश कुमार गुप्ता और संचालक वन विहार श्रीमती कमलिका मोहन्ता उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Close