मध्य प्रदेश

MP में कितने हनी ट्रैप गैंग? भोपाल में तीसरे गिरोह का पर्दाफ़ाश, आपस में जुड़े तार

भोपाल. मध्य प्रदेश (madhya pradesh)में आखिर कितने हनी ट्रैप गैंग (honey trap gang)हैं…?ये सवाल इसलिए उठा रहा है, क्योंकि पहले इंदौर गैंग का खुलासा हुआ.उसके बाद भोपाल (bhopal)की निशातपुरा क्षेत्र से दूसरा गैंग पकड़ा गया और अब तीसरा गैंग कोलार इलाके में पकड़ा गया. अब तक की जांच में पता चला है कि पहले गैंग का कनेक्शन दूसरे से और दूसरे का तीसरे से है.

मध्य प्रदेश में जिस्मफ़रोशी की आड़ में ब्लैकमेलिंग काला धंधा ज़ोर-शोर से चल रहा है. अब तीसरे हनीट्रैप गैंग-3 का खुलासा कोलार थाना इलाके में हुआ है.क्राइम ब्रांच को मुखबिर से मिली सूचना के बाद एक बड़ी सफलता हाथ लगी.पुलिस की स्पेशल टीम ने घेराबंदी कर दानिश नगर में एक घर में दबिश दी. वहां पुरुष और कॉल गर्ल्स आपत्तिजनक स्थिति में मिले.पुलिस ने नौ कॉल गर्ल्स और 11 पुरुषों को गिरफ्तार किया.

गैंग के इंटर कनेक्शन का दावा

नॉर्थ एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान के अनुसार प्राथमिक जांच में इस बात का पता चला है कि निशातपुरा इलाके में जिस गैंग का खुलासा किया था, उसमें शामिल आरोपी महिला कोलार के इस गैंग भी शामिल है. गैंग में कुछ लोग ऐसे हैं, जो ब्लैकमेलिंग में लिप्त हैं.पुलिस कॉल डिटेल के आधार पर मामले की जांच कर रही है.कोलार में गिरफ्तार गैंग को भोपाल की महिला चला रही थी. कोलार में गिरोह छह महीने से सक्रिय था.इसके अलावा भोपाल में लंबे समय से अलग-अलग जगहों पर ये काम कर रहा था.

इस गैंग में कॉल गर्ल्स को भोपाल समेत मुंबई, नागपुर और बैतूल से कांट्रैक्ट पर बुलाया जाता था.एक कॉल गर्ल को ग्राहक के हिसाब से तीस हजार से लेकर एक लाख रुपए महीने तक दिया जाता था.अब पुलिस इस गैंग से पता लगा रही है कि किन-किन कॉल गर्ल्स ने जिस्मफरोशी की आड़ में कितने लोगों को निशातपुरा गैंग की तरह ब्लैकमेल किया है.

हनीट्रैप गैंग पार्ट-01

तारीख – 18 सितंबर 2019

-इस गैंग का सबसे पहले पर्दाफाश हुआ था.इंदौर पुलिस ने दो महिला और एक पुरुष और भोपाल से तीन महिला, एक पुरुष को गिरफ्तार किया था.गैंग ने कई बड़े राजनेताओं और नौकरशाहों को हनीट्रैप में फंसाकर ब्लैकमेल किया था.

हनीट्रैप गैंग पार्ट-02

तारीख – 24 सितंबर 2019

इस गैंग का पर्दाफाश भोपाल की निशातपुरा थाना पुलिस ने किया था.गैंग में दो कॉल गर्ल्स और दो दलाल शामिल थे.इस गैंग ने दो कारोबारियों को हनीट्रैप में फंसाकर ब्लैकमेल किया था.

हनीट्रैप गैंग पार्ट-03

तारीख – 25 सितंबर 2019

कोलार इलाके से पकड़े गए इस गैंग का कनेक्शन निशातपुरा गैंग से है.पुलिस जांच कर रही है कि कोलार के इस गैंग ने किन-किन लोगों को शिकार बनाया है…

इंदौर, निशातपुरा, कोलार गैंग के कनेक्शन की जांच

इंदौर के हनीट्रैप गैंग के तार भोपाल के निशातपुरा इलाके से पकड़े गई चार सदस्यीय गैंग से जुड़े थे.जांच जैसे-जैसे आगे बढ़ी और कोलार से तीसरे गैंग का पर्दाफाश हुआ, तो अब निशातपुरा गैंग के तार कोलार की गैंग से जुड़ रहे हैं.पुलिस तीनों हनीट्रैप गैंग के कनेक्शन की जांच के साथ यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि प्रदेश में और कितने गैंग सक्रिय हैं कितने लोगों को शिकार बनाया.
 

Tags

Related Articles

Close