छत्तीसगढ़

गौठानों को किसान अपनी योजना मानें- प्रभारी मंत्री साहू 

बिलासपुर । नरवा, गरूवा, घुरूवा और बारी महत्वाकांक्षी योजना है। क्षेत्र के किसान इस योजना को केवल सरकारी न मानें, बल्कि अपना योजना मानें। इससे जरूर सफलता मिलेगी। गृह, लोक निर्माण, जेल, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व, पर्यटन मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री ताम्रध्वज साहू ने आज बिल्हा विकासखंड के ग्राम हथनी के आदर्श गौठान का निरीक्षण के पश्चात इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। प्रभारी मंत्री श्री साहू ने कहा कि गौठानों को किसान स्वयं संचालित करें। प्रारंभ में सरकार द्वारा सहायता दी जा रही है। गौठान संचालन के लिये समिति बनायें। गौठानों से होने वाले आय समिति की स्वयं की होगी। गौठानों में जहां मवेशी सुरक्षित रहेंगी, वहीं पशुओं की स्वास्थ्य की देखभाल के लिये एक ही जगह पर टीकाकरण हो सकेगा। किसान पहले पशुओं से फसलों को बचाने के लिये अपने बाडिय़ों को घेर लेते थे। इससे बाड़ी के पीछे रहने वालों को आने-जाने में परेशानी होती थी। गौठान में पशु एक जगह पर रहेंगे तो बाडिय़ों को घेरने की जरूरत नहीं प?ेगी और फसलों का बचाव भी होगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाएं संचालित की जा रही है। किसानों के उपज धान को समर्थन मूल्य पर 2500 रूपये क्विंटल में खरीदी, किसानों के कर्जमाफी, बिजली बिल हॉफ करने और छोटे भूखंडों के रजिस्ट्री होने से लोगों को लाभ मिला है। उन्होंने कहा कि जनहित के लिये वास्तविक रूप से काम किया जा रहा है। गौठान निरीक्षण के दौरान प्रभारी मंत्री ने विभिन्न हितग्राहीमूलक योजना के अंतर्गत 6 किसानों को 50 प्रतिशत अनुदान पर बैटरी चलित स्प्रेयर, 6 किसानों को सब्जी मिनीकिट, राशनकार्ड एवं मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान की राशि स्व.उमाशंकर वर्मा की पत्नी श्रीमती प्रवीण वर्मा को 1 लाख रूपये की राशि वितरित की। इस दौरान विभिन्न विभागों द्वारा प्रदर्शनी भी लगाई गई।  
कार्यक्रम के प्रारंभ में कलेक्टर डॉ.संजय अलंग ने उक्त गौठान के संबंध में बताया कि यहां पशुओं के पेयजल के लिये 6 पानी टंकी, चारा हेतु 4 कोटना, पशुओं के बैठने हेतु 4 चबूतरा, 6 वर्मी टांका, 5 नाडेप, 8 अंजोला टेंक, उपचार हेतु ट्रेविस एवं 1 बोर खनन किया गया है। ग्वालों एवं मजदूरों के लिये 2 शौचालय एवं वाटर रिचार्ज के लिये डबरी निर्माण भी किया गया है। उन्होंने कहा कि पालतू पशुओं से फसलों को होने वाले नुकसान से बचाने, काम में व्यवधान न हो और ग्रामीण उत्पादकता को जोड़ते हुए इस योजनाओं का क्रियान्वयन किया गया है। कार्यक्रम को विजय केशरवानी ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम में राजेन्द्र शुक्ला ने सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए क्षेत्र की समस्या और मांगों की ओर प्रभारी मंत्री का ध्यान आकर्षित कराया। कार्यक्रम में विधायक बिलासपुर शैलेष पाण्डेय, विधायक तखतपुर श्रीमती रश्मि सिंह, पूर्व विधायक सियाराम कौशिक, जनपद अध्यक्ष श्रीमती गीतांजली कौशिक, पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल, क्षेत्र के गणमान्य नागरिक एवं बड़ी संख्या में ग्रामीणजन मौजूद थे।
 

Tags

Related Articles

Close