मध्य प्रदेश

अमित शाह ने भाजपा नेताओं और पदाधिकारियों को एक साथ दिए कई टास्क, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पूर्व सीएम भी आईं

भोपाल. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और देश के गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने शनिवार को देशभर के पार्टी सांसदों और पदाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) की. इस दौरान अमित शाह ने देशभर के बीजेपी सांसदों और पदाधिकारियों के साथ चर्चा की. इस देशव्यापी अभियान के तहत भाजपा अध्यक्ष ने अगले कुछ दिनों के लिए पार्टी नेताओं और पदाधिकारियों को कई महत्वपूर्ण कार्यों की जिम्मेदारी सौंपी है. इसका मकसद केंद्र सरकार के कार्यों और पार्टी की नीतियों को जनता तक पहुंचाना है. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh News) की राजधानी भोपाल में भी भाजपा के कई बड़े नेताओं और पार्टी पदाधिकारियों ने राष्ट्रीय अध्यक्ष की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में भाग लिया. इन नेताओं में प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती (Uma Bharti) और भोपाल की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर भी शामिल थीं.

कश्मीर और अर्थव्यवस्था की बात

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को हटाने और देश की अर्थव्यवस्था की ताजा हालत के बारे में जनता को जागरूक करने जैसी तमाम महत्वपूर्ण बातें शामिल थीं. शाह ने भाजपा नेताओं और पदाधिकारियों से स्पष्ट शब्दों में कहा कि वे

केंद्र सरकार की ओर से अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए उठाए गए कदमों को जनता के बीच ले जाएं, ताकि विपक्षी दलों द्वारा मंदी संबंधी बातों से फैले असमंजस को दूर किया जा सके. अमित शाह ने पार्टी नेताओं और पदाधिकारियों को अनुच्छेद 370 को लेकर जनजागृति अभियान चलाने का भी निर्देश दिया.

गांधी जयंती पर पदयात्रा

केंद्रीय गृहमंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पार्टी नेताओं को आगामी 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करने का निर्देश दिया. अमित शाह ने नेताओं से कहा कि भाजपा ने तय किया है कि गांधी जयंती के अवसर पर 2 से 30 अक्टूबर तक देशभर में कई कार्यक्रमों का आयोजन किया जाए. इसको लेकर पार्टी नेता और पदाधिकारी सजग रहें. वहीं उन्होंने पार्टी के सांसदों को निर्देश दिया कि वे गांधी जयंती के अवसर पर 150 किलोमीटर की पदयात्रा करें.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में इन मुद्दों पर बात

– अनुच्छेद 370 पर जनजागृति अभियान और गांधी जयंती के कार्यक्रमों पर हुई चर्चा

– 2 से 30 अक्टूबर तक चलेगा कार्यक्रम, सांसद करेंगे 150 किमी पद यात्रा

– केंद्र सरकार की ओर से अर्थव्यवस्था को बूस्ट करने के लिए उठाए गए कदमों को भी जनता के बीच ले जाएगी बीजेपी

– व्यापारियों और कारोबारियों के बीच जाएगी बीजेपी

नेहरू-गांधी परिवार का सम्मान

नेहरू-गांधी परिवार से भाजपा की दूरी नई बात नहीं, लेकिन मध्य प्रदेश में पार्टी का एक अनोखा निर्णय चर्चा का विषय बन गया है. दरअसल, भाजपा के शीर्ष नेतृत्व की ओर से कहा गया है कि पार्टी अब नेहरू-इंदिरा-राजीव की प्रतिमाओं का भी सम्मान करेगी. जी हां, 25 सितंबर को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर बीजेपी स्वच्छता अभियान चलाएगी, जिसके तहत महापुरुषों की प्रतिमाओं के आसपास भी साफ-सफाई की जाएगी. पार्टी के अनुसार कांग्रेस विचारधारा के महापुरुषों की प्रतिमाओं को भी अभियान में शामिल किया गया है.

Tags

Related Articles

Close