राजनीति

पीएम मोदी अमेरिकी में आतंक विरोधी निवेश बढ़ाने से जुड़े कार्यक्रमों में होंगे शामिल

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अगला विदेशी दौरा अमेरिका का है और वे इस दौरान ह्यूस्टन रैली और संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करने के अलावा आतंकवाद विरोधी अभियान के साथ बड़े निवेश से जुड़े कार्यक्रमों में भी हिस्सा ले सकते हैं। जानकारी मिली है कि मोदी 23 सितंबर को यूएन की आतंकवाद विरोधी मीटिंग में फ्रांस, जॉर्डन और न्यूजीलैंड के नेताओं के साथ शामिल हो सकते हैं। वह ब्लूमबर्ग बिजनेस मीट को भी संबोधित करेंगे। प्रधानमंत्री इसमें भारत में कारोबारी सुगमता में सुधार का जिक्र कर सकते हैं। इस तरह की भी अटकलें हैं कि मोदी अलग से अमेरिकी कंपनियों के चीफ एग्जिक्यूटिव्स के साथ मुलाकात करेंगे। इसमें वह अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए उनसे निवेश बढ़ाने की अपील करेंगे। आतंकवाद विरोधी बैठक में ग्लोबल टेक्नॉलजी दिग्गज भी शामिल होंगे। सभी सरकारें ऑनलाइन आतंकवाद को फैलने से रोकना चाहती हैं। यह मीटिंग मार्च में क्राइस्टचर्च आतंकी हमले और फ्रांस के आतंकवाद से लड़ने के लिए उठाए गए उपायों की पृष्ठभूमि में हो रही है। फ्रांस ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर बढ़ती नफरत की रोकथाम के उपाय भी कर रहा है। इस बैठक में मोदी सीमा पार आतंकवाद और आतंकी फंडिंग रोकने जैसे मसलों को रेखांकित कर सकते हैं।
मोदी और फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रां 22 अगस्त को समिट के दौरान सोशल मीडिया पर आतंकवाद को रोकने के लिए एक रोडमैप पर सहमत हुए थे। जॉर्डन भी आतंकवाद और कट्टरता विरोधी अभियान में भारत का महत्वपूर्ण सहयोगी है। प्रधानमंत्री 25 सितंबर को तीसरे ब्लूमबर्ग ग्लोबल बिजनेस फोरम को संबोधित करेंगे। इसमें राजनीति और कारोबारी क्षेत्र की जानी मानी शख्सियत मौजूद रहेंगी। इसके बाद वह उद्यमी और जलवायु परिवर्तन कार्यकर्ता मिशेल ब्लूमबर्ग से बातचीत करेंगे। आयोजकों के मुताबिक, इस फोरम की थीम ‘रिस्टोरिंग ग्लोबल स्टेबिलिटी’ है। इसमें दुनिया की खुशहाली के लिए सरकारों और कारोबारियों को आर्थिक और पर्यावरण से जुड़ी अस्थिरता की चुनौतियों से निपटने के लिए एकजुट किया जाएगा। इसमें पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन, यूरोपीय सेंट्रल बैंक की अगली प्रेसिडेंट और इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड की पूर्व प्रमुख क्रिस्टीन लगार्ड, न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जेसिंडा आर्डेन, बैंक ऑफ इंग्लैंड के गवर्नर मार्क कर्नी, वॉल्ट डिज्नी के सीईओ बॉब इगर, गोल्डमैन सैक्स के डेविड सोलोमन, जेपी मॉर्गन चेज के जेमी डाइमन, सिटी बैंक के माइकल कॉर्बेट, क्रेडिट सुइस के टिडजेन थियम और उबर के दारा खुसरोशाही जैसे गणमान्य लोग भी हिस्सा लेंगे। 

Tags

Related Articles

Close