छत्तीसगढ़

बैंक का एरिया मैनेजर ही निकला शातिर चोर 

बिलासपुर । फाइनेंस बैंक में धावा बोलकर अलमारी लॉकर से 6,67000 चोरी कर फरार हुए आरोपी को पकडऩे में पुलिस ने सफलता हासिल की है,आरोपी बैंक का एरिया मैनेजर ही निकला। बताया जा रहा है कि आरोपी को सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी को पकड़ लिया गया है,मामले का खुलासा करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओपी शर्मा ने बताया की सरकंडा थाना क्षेत्र अंतर्गत अशोक नगर में जना स्मॉल फाइनेंस बैंक है,वहां के मैनेजर सादिक अहमद ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि सोमवार की सुबह जब वह बैंक खोला तो आलमारी का ताला टूटा हुआ था और उसपर वसूली की रखी गई रकम को किसी अज्ञात व्यक्ति ने ताला तोड़ पार कर दिया है, मामला दर्ज कर तत्काल मामले की जानकारी पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल को दी गई जिसपर उन्होंने तत्काल आरोपी की पतासाजी हेतु आदेश दिये, जिस के निर्देश पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश शर्मा सीएसपी कोतवाली के निर्देश पर थाना प्रभारी जेपी गुप्ता के नेतृत्व में टीम गठित कर मौके पर जाकर घटना स्थल का निरक्षण पश्चात सीसीटीवी का बारीकी से निरीक्षण किया गया जिसपर एक व्यक्ति मूहँ में नकाब बांध कर घटना को अंजाम देते दिखाई पड़ा, फुटेज के आधार पर बैंक पर कार्यरत सभी अधिकारी कर्मचारी को बुला व अलग अलग पूछताछ किया गया जिसपर कुछ संदिग्ध पॉय गए,अलग अलग पूछताछ करने पर बैंक का एक अधिकारी गोलमाल बात कर गुमराह करने लगा तब उसे सीसीटीवी फुटेज दिखा बारीकी से पूछताछ करने पर वह टूट गया और अपना जुर्म स्वीकार किया व अपना नाम उमेश श्रीवास्तव पिता वीरेंद्र श्रीवास्तव उम्र 30 वर्ष निवासी रतनपुर व वर्तमान में बिलासपुर पर जरहाभाठा मंदिर चौक के पास एक लाज में रहना बताया व बैंक पर एरिया मैनेजर के पद पर कार्यरत बताया पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर चोरी की गई रकम 6 लाख 67 हजार रुपये पूरी रकम बरामद कर लिया गया बताया जिसे जुडिशल रिमांड पर भेजा गया। कार्यवाही के दौरान मुख्य रूप से थाना प्रभारी जेपी गुप्ता, उपनिरीक्षक बी.आर सिन्हा, प्रधान आरक्षक जितेश सिंह, आरक्षक सोनू पाल, बलबीर सिंह, प्रमोद सिंह, लगन खांडेकर, राकेश यादव, सरफराज खान, गोकुल जांगड़े की महत्वपूर्ण भूमिका रही।