Breaking Newsदेश

डबरा में कन्हैया कुल्फी गोदाम को सील्ड करते हुए एसडीएम

डबरा. खाद्य विभाग, राजस्व विभाग, नगर पालिका के अधिकारियों की टीम ने एसडीएम जयति सिंह के नेतृत्व में शुक्रवार को छापामार कार्रवाई कर दूध डेयरियों से सेंपल लिए। एक कुल्फी बनाने के गोदाम को सील्ड करने की कार्रवाई कर चिलर प्लांट में मिले केमिकल को जब्त किया।

टीम ने हनुमानगंज डांढ़ा स्थित कन्हैया कुल्फी गोदाम पर कार्रवाई की। इस दौरान आइसक्रीम निर्माण का औषधि लायसेंस नहीं मिला। गंदे पानी से आइसक्रीम निर्माण होता पाए जाने के कारण एसडीएम जयति सिंह ने गोदाम को सील्ड कर दिया है। बड़े स्तर पर वहां गुणवत्ताहीन कुल्फी का निर्माण होता मिला। कार्रवाई के दौरान मालिक कन्हैयालाल साहू और उसका पुत्र मनीष भाग गया। काफी समय तक टीम ने इंतजार किया बाद में घर की एक महिला के हस्ताक्षर लेकर सैंपल लिए और गोदाम को सील्ड किया गया।

लाइसेंस नहीं मिला
नगर में कन्हैया कुल्फी के नाम से कई ठेले लगते है और लोग चाव से खाते है। एसडीएम जयतिसिंह के नेतृत्व में पहुंची टीम ने गोदाम का जायजा लिया तो निरीक्षण में गंदगी मिली। एक हौदी मिली जिसमें गंदा पानी एकत्रित मिला। मावा की आइसक्रीम, बोतल में भरने वाले दूध के पात्र खुले में रखे हुए थे। कांच की बोतल की गुणवत्ता पर एसडीएम ने बोतल की जांच की और गंदगी को लेकर नाखुश दिखीं। जब मालिक कन्हैयालाल साहू से लायसेंस मांगा तो वह औषधि लायसेंस नहीं बता सके। नगर पालिका का स्थापना लायसेंस लेकर टीम को बताया यह लायसेंस भी छह माह से रिन्युवल नहीं हुआ था।

मौका पाकर भागे पिता पुत्र
एसडीएम के यह कहते ही, कि गोदाम को सील्ड किया जाएगा यह सुनकर कुछ समय बाद पिता और पुत्र दोनों रफूचक्कर हो गए। कन्हैयालाल भाजपा नेता होना बताया गया है। काफी समय तक इंतजार करने के बाद जब दोनों में से कोई नहीं आया तब टीम ने कन्हैयालाल की बहु को पार्टी बनाया और हस्ताक्षर लिए और कागजी कार्रवाई पूरी की। टीम को इलाइची और अन्य फ्लेवर के एसेंस की दो बोतले मिलीं।

Related Articles

Close