Breaking NewsMADHYA PRADESH

धमाके में गई तीन की जान, पीतल निकालने के लिए घर लाया था सेना का बम

शिवपुरी में सेना की फील्ड फायरिंग रेंज से चांदमारी के बाद बचे बम के हिस्से को घर लाना एक शख्स को भारी पड़ गया। बम से पीतल निकालने के दौरान ऐसा धमाका हुआ कि शख्स को तो जान गंवानी ही पड़ी उसकी बेटी और एक साल के मासूम की भी मौत हो गई। घटना मसूदा गांव की है। यहां के श्याम जाटव बकरी चराने के दौरान सेना की फील्ड फायरिंग रेंज में चले गए। वहां पड़े बम के के बचे हिस्से को इस लालच में घर ले आए कि उससे पीतल निकालकर बेच देंगे। जैसे ही घर में उन्होंने बम से पीतल निकालना शुरू किया। उसी वक्त जोरदार धमाका हो गया। जिससे मौके पर ही श्याम, उनकी बेटी सुखदेवी और एक साल के मासूम की मौत हो गई। जबकि धमाके में एक शख्स घायल है। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस गांव पहुंच गई है।

मृतक लोग आर्मी फील्ड फायरिंग क्षेत्र में गए थे बिस्फोटक सामग्री ढूढ़ने के लिये

बिस्फोटक सामग्री के बदले जिंदा बम उठा लाय थे

आर्मी का बम फटने से तीन की मौत एक घायल

पिछोर की हिम्मतपुर चौकी क्षेत्र के मसूदा गांव की घटना

मृतकों के घर ही फटा बम

हिम्मतपुर चौकी प्रभारी संजीव पवार पुलिस बल के साथ पहुँचे घटना स्थल पर।

Related Articles

Close