Breaking News

वर्ल्ड कप / न्यूजीलैंड के खिलाफ मैच में स्टार्क-कमिंस को आराम दे सकती है ऑस्ट्रेलिया

लंदन. वर्ल्ड कप में शनिवार को ऑस्ट्रेलिया का मुकाबला न्यूजीलैंड से होना है। ऑस्ट्रेलिया पहले ही 12 अंकों के साथ सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाई कर चुकी है। ऐसे में न्यूजीलैंड के खिलाफ कंगारू टीम अपने तेज गेंदबाजों को आराम दे सकती है। हालांकि, कप्तान एरॉन फिंच का कहना है कि टीम के खिलाड़ियों को आराम जैसी चीजों में कोई रुचि नहीं है। हम सिर्फ अपनी जीत का सिलसिला बरकरार रखना चाहते हैं। साथ ही इस मैच के बाद अगले मैच के लिए हमारे पास एक हफ्ता होगा।

फिंच ने कहा कि उस एक हफ्ते में खिलाड़ी तरोताजा महसूस कर सकते हैं। डेविड वॉर्नर भी इसी हफ्ते पिता बनने वाले हैं। ऐसे में उन्हें वर्ल्ड कप के अलावा कुछ और सोंचने का मौका मिलेगा। यह टीम के लिए आराम का मौका हो सकता है।

कम आक्रामक टीम का भी आनंद

2015 के वर्ल्ड कप फाइनल में न्यूजीलैंड को हराकर चैम्पियन बनीं ऑस्ट्रेलियाई टीम से तुलना पर फिंच ने कहा कि वह अभी वाली कम आक्रामक टीम का आनंद ले रहे हैं। फिंच ने कहा कि इस वक्त सभी खिलाड़ी बेहतर स्वभाव के साथ खेल रहे हैं। हमें नतीजों की चिंता नहीं है। पिछली बार का वर्ल्ड कप हमारी तरफ से काफी आक्रामक रहा था। लेकिन इस बार टूर्नामेंट शानदार है और मुझे यह भी सुखद अहसास लगता है।

बॉल टेम्परिंग विवाद के बाद बदला रवैया

दरअसल, पिछले साल ही दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बॉल टेम्परिंग विवाद में फंसने के बाद विशेषज्ञों ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को जीत के प्रति अपने व्यवहार में बदलाव करने की सलाह दी थी। पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ और विस्फोटक ओपनर डेविड वॉर्नर के 12 महीने के बैन से लौटने के बाद भी टीम की आक्रामकता में काफी कमी देखी गई।

न्यूजीलैंड के पास विश्व स्तरीय खिलाड़ी
न्यूजीलैंड से मैच से पहले फिंच ने उसकी तारीफ करते हुए कहा कि कीवी टीम हर मैच को लड़कर जीतती है। उन्हें इससे फर्क नहीं पड़ता कि वह मैच वर्ल्ड कप फाइनल है या क्लब गेम। न्यूजीलैंड एक बेहतरीन फील्डिंग साइड है। वह आप पर दबाव बनाते हैं। उनके पास विश्व स्तरीय खिलाड़ी हैं।

Related Articles

Close